नए फ़्रेंचाइज़ी के लिए नया टेंडर

ललित मोदी
Image caption मोदी के मुताबिक बेस प्राइस कभी भी विवाद का मसला नहीं रहा है.

इंडियन प्रीमियर लीग ने दो नए फ्रेंचाइजी के लिए नए सिरे से बोली लगाने की घोषणा की है. इस संबंध में नौ मार्च को फिर से टेंडर जारी किया जाएगा. आईपीएल ने मौजूदा टेंडर को रद्द कर दिया है.

आईपीएल ने पहले की तुलना में शर्तों को आसान करने का भी फ़ैसला किया है.

इसके पहले आइपीएल ने बोली लगाने वालों के लिए एक अरब डॉलर की पूँजी की कसौटी रखी गई थी जिसकी आलोचना हुई थी.

आईपीएल के चेयरमैन और कमिश्नर ललित मोदी ने संवाददाताओं को बताया कि ट्वेन्टी-20 लीग की गवर्निंग काउंसिल की बैठक के बाद मौजूदा निविदाओं को रद्द करने का फ़ैसला किया गया है.

ललित मोदी ने कहा कि इस संबंध में विभिन्न पक्षों की ओर से कई पत्र मिले थे.

शर्त

पत्र के माध्यम से इन पक्षों ने कहा कि दो साल पहले जब आईपीएल के पहले टेंडर निकाले गए थे, उस समय एक अरब डॉलर पूँजी की पूर्व शर्त की बात नहीं कही गई.

ललित मोदी ने कहा, "गवर्निंग काउंसिल ने बोली लगाने वालों के लिए 10 करोड़ डॉलर की परफॉर्मेंस डिपॉजिट की मांग को घटाकर एक करोड़ डॉलर कर दिया है. पहले राशि 50 लाख डॉलर थी लेकिन अब वैल्यूएशन बढ़ चुका है."

मोदी ने यह भी बताया कि बोली लगाने वालों के लिए सफलता मिलने के बाद बैंक गारंटी डिमांड 100 फ़ीसदी से घटाकर 10 फ़ीसदी कर दी गई है. और इस गारंटी को 48 घंटों के भीतर देना होगा.

मोदी ने कहा, '22.5 करोड़ डॉलर के बेस प्राइस में कोई बदलाव नहीं किया गया है. बेस प्राइस कभी भी विवाद का मसला नहीं रहा है."

उन्होंने कहा कि टेंडर रद्द किए जाने के बाद उनको निराशा हुई है लेकिन यह फ़ैसला गवर्निंग काउंसिल का है.

संबंधित समाचार