ब्रिटेन के तीन पूर्व मंत्रियों को लेने के देने पड़े

ब्रितानी पूर्व मंत्री
Image caption तीनों पूर्व मंत्री स्टीफ़न बायर्स, पेट्रेशिया हेविट और जैफ़ हून इन आरोपों से इनकार करते हैं

ब्रिटेन में आम चुनाव के कुछ हफ़्ते पहले लेबर पार्टी ने तीन पूर्व मंत्रियों स्टीफ़न बायर्स, पेट्रेशिया हेविट और जैफ़ हून को सरकार की नीतियों को प्रभावित करने के लिए पैसे लेने के आरोप में निलंबित कर दिया गया है.

हालांकि तीनों नेता इस आरोप से साफ़ इनकार करते हैं.

प्रधानमंत्री गोर्डन ब्राउन ने भी इस मामले की उच्चस्तरीय जाँच की माँग ठुकरा दी है.

संडे टाइम्स और चैनल-4 ने इन तीनों नेताओं को एक अमरीकी लॉबी कंपनी के प्रतिनिधि के साथ सौदेबाजी करते हुए गुप्त रूप से फ़िल्माया.

चैनल-4 के इस कार्यक्रम के बाद लेबर पार्टी ने इन नेताओं को निलंबित करने का फ़ैसला किया.

ऐसा माना जा रहा है कि ये फ़ैसला पार्टी के मुख्य सचेतक निक ब्राउन ने लेबर पार्टी के प्रमुख टॉनी लायड और महासचिव रे कॉलिंस के साथ बातचीत के बाद लिया.

लेबर के लिए झटका

एक बयान में लेबर पार्टी के प्रवक्ता ने कहा,''लेबर पार्टी अपने प्रतिनिधियों से उच्चस्तरीय व्यवहार की उम्मीद करती है और मानती है कि उनका ये कर्तव्य है कि उनका व्यवहार पारदर्शी रहे और वे जवाबदेह रहें.''

जैफ़ हून ने बीबीसी से बातचीत में कहा कि उन्हें ये नहीं बताया गया है कि उन्हें सचेतक पद से हटा दिया गया और इसकी वजह भी नहीं बताई गई है.

इन नेताओं के अलावा तीन और नेताओं के इस कार्यक्रम में दिखाया गया.

वे हैं लेबर पार्टी की बेरोनस मोर्गन और मारग्रेट मोरन और विपक्षी कंज़रवेटिव पार्टी के जॉन बटरफिल.

ऐसी ख़बरें हैं कि जॉन बटरफिल ने अपने आपको स्टैंडर्ड कमिश्नर के समक्ष पेश कर दिया है, बेरोनस मोर्गन ने हाउस आफ़ लार्डस की एक उपसमिति के सामने अपने मामले को रखा है और मारग्रेट मोरन पहले ही लेबर पार्टी से अपने खर्चों के भुगतान के विवाद के बाद लेबर पार्टी की संसदीय दल से निलंबित चल रही हैं.

माना जा रहा है कि ये मामला सत्तारूढ़ लेबर पार्टी के लिए बड़ा झटका है.

चुनाव पूर्व सर्वेक्षणों में लेबर पार्टी पहले ही पीछे चल रही है.

संबंधित समाचार