ब्रिटेन में स्कैनर्स पर सहमति

  • 24 मार्च 2010
स्कैनर
Image caption कहा जा रहा है कि यात्रियों की तस्वीरों को तुरंत नष्ट कर दिया जाएगा

ब्रिटेन की एक संसदीय समिति ने हवाई अड्डों पर पूरे शरीर का स्कैन करने यानि यात्रियों के शरीर की 'नग्न' तस्वीर उतारने वाली मशीनों को लगाने पर सहमति जता दी है.

समिति का कहना है कि यात्रियों की निजता के अतिक्रमण की बात कुछ बढ़ा चढ़ाकर कही जा रही है.

सांसदों का कहना है कि स्कैनर से यात्रियों के अधिकारों का हनन नहीं होता है.

इस साल जनवरी में ब्रितानी सरकार ने हवाई अड्डों पर स्कैनर लगाने की घोषणा की थी.

लेकिन इसका विरोध कहने वालों का कहना है कि स्कैनर से यात्रियों की नग्न तस्वीरें उतरेंगी जो उनकी निजता का अतिक्रमण है.

जबकि सरकार का कहना है कि इस मशीन के ज़रिए किसी भी छुपे हुए हथियार या विस्फोटक को देखा जा सकता है जिससे हवाईअड्डे पर सुरक्षा जांच में तेज़ी आएगी.

इससे पूरे शरीर की जांच से भीतरी अंगों को भी देखा जा सकेगा. हालांकि ज़ोर देकर कहा जा रहा है कि यात्रियों की तस्वीरों कों तुरंत नष्ट कर दिया जाएगा.

साथ ही दलील दी जा रही है कि इस मशीन के लगने के बाद यात्रियों को सुरक्षा जांच के लिए अपने कपड़े, जूते और बेल्ट वगैरह नहीं उतारने होंगे.

वर्ष 2004 में इस मशीन को न्यूयॉर्क और लॉस एंजेलेस हवाईअड्डों पर पहले ही लगाया जा चुका है.

संबंधित समाचार