बच्चे ने बढ़ाया तनाव

बच्चा फाइल फोटो
Image caption अमरीकी दंपत्ति बड़ी संख्या में रुसी बच्चों को गोद लेते हैं.

एक सात वर्षीय रुसी बच्चे को लेकर अमरीका और रुस के अधिकारियों में तनातनी हो गई है.

आरत्योम सावेलयेव नामक यह बच्चा है तो रुसी लेकिन इसे अमरीकी महिला टोरी हानसेन ने गोद लिया था.

अब अचानक एक दिन सात वर्षीय सावेलयेव मॉस्को एयरपोर्ट पर पाया गया. सावेलयेव वाशिंगटन से अकेले मॉस्को पहुंचा है और रुसी अधिकारियों का कहना है कि सावेलयेव के पास एक चिट्ठी थी जिसमें उसे गोद लेने वाली अमरीकी मां टोरी हानसेन ने लिखा है कि यह बच्चा मानसिक रुप से अस्थिर और बहुत हिंसक हो चुका है. इसी कारण अब वो इस बच्चे के अभिभावक की ज़िम्मेदारी नहीं लेना चाहती हैं.

अमरीकी विदेश विभाग ने कहा है कि वो सात वर्षीय आरत्योम सावेलयेव के मामले से बहुत चिंतित हैं.

टोरी हानसेन अमरीका के टेनेसी प्रांत की रहने वाली है और स्थानीय पुलिस अधिकारी इस मामले में उनसे पूछताछ करने वाले हैं.

माना जा रहा है कि टोरी ने सावेलयेव को पिछले साल सितंबर में गोद लिया था और उसे जस्टिन हानसेन नाम भी दिया था. अब अमरीकी अधिकारी इस बात की जांच कर रहे हैं क्या टोरी ने सावेलयेव को वापस भेजकर किसी क़ानून का उल्लंघन किया है या नहीं.

अब यह बच्चा रुस में है लेकिन बात बिगड़ चुकी है. क्योंकि मॉस्को में रुस के विदेश मंत्रि सर्गेई लेवरोव ने कहा है वो अमरीकी परिवारों द्वारा रुसी बच्चों को गोद लिए जाने पर अस्थायी तौर पर रोक लगाने पर विचार कर रहे हैं.

जिस एजेंसी की मदद के ज़रिए सावेलयेव को टोरी ने गोद लिया था उसका लाइसेंस रद्द कर दिया गया है

वाशिंगटन में अधिकारियों का कहना है कि वो रुस की चिंताओं का निराकरण करने की कोशिश में है. हालांकि अमरीकी अधिकारियों ने माना कि पिछले कुछ समय में अमरीका में रुसी बच्चों के साथ प्रताड़ना संबंधी आरोपों में बढ़ोतरी हुई है.