लंदन में पहला विमान उतरा

Image caption पिछले पांच दिनों से अलग अलग हवाई अड्डों पर फंसे यात्री बेहाल हैं.

ब्रिटेन के परिवहन मंत्री लॉर्ड एडोनिस ने कहा है कि मंगलवार देर रात तक वहां के सभी हवाईअड्डों से उड़ानें शुरू हो जाएंगी.

एलान के कुछ ही देर बाद लंदन के हीथ्रो हवाईअड्डे पर पहला अंतरराष्ट्रीय विमान उतरा है.

लॉर्ड एडोनिस ने कहा है कि हवाईअड्डा खोलने का फ़ैसला ख़तरनाक हालात में उड़ान भरने के नए मानकों की घोषणा के बाद लिया गया है.

नागरिक उड्डयन प्राधिकरण की एक प्रवक्ता ने बताया कि कुछ इलाके होंगे जहां से उडा़नें नहीं भरी जाएंगी क्योंकि वहां हवा में ज्वालामुखी से निकली राख की मात्रा ज़्यादा घनी है.

लेकिन उनका कहना था कि इससे ब्रिटेन के हवाईअड्डों पर असर नहीं पड़ेगा.

इसके पहले उत्तरी यूरोप के कई इलाकों से विमानों की उड़ान शुरू हो गई थी.

पिछले पांच छह दिनों से हज़ारों यात्री दुनिया के अलग अलग हिस्सों में फंसे पड़े हैं.

बीबीसी संवाददाता का कहना है कि दिल्ली हवाईअड्डे से कुछ उड़ानों की शुरूआत हुई है जिससे निराश बैठे यात्रियों में कुछ उत्साह नज़र आने लगा है.

नीदरलैंड के वॉन शैर ने बीबीसी को बताया कि पिछले पांच दिन बहुत मुश्किल भरे थे क्योंकि एयरलाइन ने उन्हें सिर्फ़ तीन दिनों के लिए होटल मुहैया करवाया.

मंगलवार को उन्हें राहत मिली जब केएलएम ने अपनी एक उड़ान शुरू करने की घोषणा की.

दूसरे उद्दोग भी चपेट में

उड़ानों पर लगे इन प्रतिबंधों से एयरलाइन उद्दोग को तो भारी धक्का लगा ही है, दूसरे क्षेत्रों में भी असर महसूस हो रहा है.

जर्मनी की कार कंपनी बीएमडब्ल्यू ने अपने तीन संयंत्रों पर काम रोक दिया है क्योंकि उन्हें कार पार्ट्स की आपूर्ति नहीं हो पा रही है.

जापान में निसान कंपनी ने भी कुछ फ़ैक्ट्रियों में काम पूरी तरह से रोक दिया है वहीं होंडा ने आंशिक रूप से काम रोक दिया है.

संबंधित समाचार