एचआईवी संक्रमित नहीं हूँ- ज़ूमा

अपनी तीनों पत्नियों के साथ जैकब ज़ुमा

कई पत्नियों के साथ रहने के लिए चर्चित दक्षिण अफ़्रीका के राष्ट्रपति जैकब ज़ूमा ने अपने बारे में एक व्यक्तिगत बात उजागर की है – कि वे एचआईवी निगेटिव हैं.

ज़ूमा ने एचआईवी की रोकथाम और इसके परीक्षण के लिए एक सरकारी कार्यक्रम का आरंभ करते हुए अपने एचआईवी संक्रमित नहीं होने की घोषणा.

उन्होंने कहा कि उन्होंने अपने परीक्षण की बात को इसलिए उजागर किया है ताकि एचआईवी और एड्स के बारे में लोगों में ख़ुलकर चर्चा को बढ़ावा मिल सके.

जैकब ज़ूमा इससे पहले अपने ऐसे परीक्षण होने की बात को तो ज़ाहिर कर चुके हैं लेकिन ये पहली बार है जब उन्होंने अपने परीक्षण के परिणाम को सार्वजनिक किया है.

68 वर्षीय ज़ूमा ने कहा,"मैंने काफ़ी सोच-समझकर दक्षिण अफ़्रीकी लोगों को अपने टेस्ट का परिणाम बताने का फ़ैसला किया है.

"अप्रैल में हुई जाँच के परिणाम, पिछले तीन बार हुए परीक्षणों के ही समान नकारात्मक रहे हैं."

जोहानेसबर्ग में एक अस्पताल के पास एक सभा में दक्षिण अफ़्रीकी राष्ट्रपति ने कहा कि उन्होंने अपने परीक्षण की बात को इसलिए सार्वजनिक किया है ताकि इससे ख़ुलेपन को बढ़ावा मिल सके और इस महामारी के साथ जुड़ी चुप्पी और बदनामी को दूर किया जा सके.

ज़ूमा ने कहा,"हमें दक्षिण अफ़्रीकी जनता को समझाना है कि एचआईवी से संक्रमित लोगों ने कोई गुनाह नहीं किया है."

विवाद

बीबीसी के अफ़्रीका संवाददाता के अनुसार तीन-तीन पत्नियों के साथ रहनेवाले, 20 बच्चों के पिता जैकब ज़ूमा के यौन संबंधों को लेकर हमेशा टीका-टिप्पणी होती रही है.

वर्ष 2006 में बलात्कार के एक मामले में ज़ूमा ने कहा था कि उन्होंने एक एचआईवी संक्रमित महिला के साथ असुरक्षित यौन संबंध बनाया था लेकिन फिर उन्होंने ये सोचकर स्नान कर लिया कि इससे संक्रमण का ख़तरा कम हो जाएगा.

पिछले वर्ष दक्षिण अफ़्रीका के राष्ट्रपति बननेवाले ज़ूमा को इस मामले में बरी कर दिया गया था.

मगर बीबीसी संवाददाता का कहना है कि राष्ट्रपति ज़ूमा की निजी ज़िंदगी की चाहे जितनी भी आलोचना हुई हो, एड्स के बारे में उठाए गए उनके क़दमों का व्यापक स्वागत हुआ है.

उनके नए अभियान से उम्मीद है कि अगले वर्ष तक डेढ़ करोड़ लोगों का एचआईवी परीक्षण किया जा सकेगा और उनमें से 80 प्रतिशत ज़रूरतमंदों को दवा दी जा सकेगी.

दक्षिण अफ़्रीका में दुनिया के सबसे अधिक एड्स रोगी हैं और वहाँ एचआईवी संक्रमित लोगों की संख्या 50 लाख से अधिक है.

संबंधित समाचार