सरकार पूरे पांच साल चलेगी: कैमरन

कैमरन ओर क्लेग
Image caption कैमरन और क्लेग ने संयुक्त पत्रकार वार्ता में सवालों के जवाब दिए.

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने कहा है कि गठबंधन सरकार में मतभेद होने के बावजूद सरकार पूरे पाँच साल चलेगी और देशहित को पार्टी हितों से ऊपर रखा जाएगा.

प्रधानमंत्री डेविड कैमरन और उप प्रधानमंत्री निक क्लेग ने संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि यह ब्रिटेन में नई राजनीति की शुरुआत है जिसमें सत्ता राजनेताओं के हाथ से निकल कर आम लोगों के हाथ में दी जाएगी.

संवाददाताओं के सवालों के जवाब में दोनों नेताओं ने कहा कि मतभेदों के बावजूद सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी क्योंकि देश के समक्ष कई चुनौतियां हैं.

निक क्लेग का कहना था, ‘‘ दोनों ही पार्टियों ने रिस्क लिए हैं और नया काम करने की कोशिश की है. समझौते करने ही पड़ेंगे.’’

कैमरन ने कहा कि देश की अर्थव्यस्था ख़स्ताहाल है और इसे सुधारने के लिए क़दम उठाने ज़रुरी है.

कैमरन का कहना था, ‘‘ देश को लंबे समय के लिए बेहतरीन और मज़बूत नेतृत्व की ज़रुरत है और ये गठबंधन सफल होगा.’’

ब्रिटेन में कंज़रवेटिव पार्टी और लिबरल डेमोक्रेट के बीच ऐतिहासिक समझौते के बाद सरकार का गठन हुआ है.

लिबरल डेमोक्रेट नेता निक क्लेग ब्रिटेन के नए उपप्रधानमंत्री होंगे जबकि उनके चार और सहयोगियों को कैबिनेट पद दिए जाएंगे.

जॉर्ज ओसबॉर्न को नया चांसलर (वित्त प्रभार), विलियम हेग को विदेश विभाग और थेरेसा मे को नया गृह मंत्री बनाया गया है.

अपने समर्थकों को दिए एक संदेश में कैमरन ने कहा है कि ब्रिटेन के लिए एक नया युग शुरु हो रहा है और अब काम किया जाए.

द्वितीय विश्व युद्ध के बाद पहली बार कंज़रवेटिव और लिबरल डेमोक्रट के बीच सत्ता के लिए किसी भी प्रकार का समझौता हुआ है.

कंज़रवेटिव पार्टी के सत्ता में आने के साथ ही लेबर पार्टी के 13 साल के कार्यकाल का अंत हुआ है.

पिछले हफ्ते हुए चुनावों में कंज़रवेटिव पार्टी को सबसे अधिक सीटें मिली थीं जबकि सत्तारुढ़ लेबर पार्टी दूसरे नंबर पर रही थी. लिबरल डेमोक्रेट तीसरे नंबर पर थी.

संबंधित समाचार