विमान दुर्घटना में केवल एक बच्चा बचा

  • 12 मई 2010

अधिकारियों का कहना है कि लीबिया में हुई विमान दुर्घटना में केवल एक डच बच्चा जीवित बच पाया है. इसमें करीब 100 लोग उड़ान भर रहे थे.

अधिकारियों के मुताबिक लीबिया की एयरलाइंस अफ़रीकिया के विमान ने जोहनसबर्ग से उड़ान भरी थी और इसे स्थानीय समुयानुसार सुबह 0610 पर उतरना था. लेकिन इसके पहले ही ये दुर्घटनाग्रस्त हो गया.

इस एयरबस 330 में 93 यात्री और 11 चालक दल के सदस्य थे. जीवित बचे बच्चे को अस्पताल ले जाया गया है लेकिन उसकी उम्र और स्थिति के बारे में जानकारी नहीं दी गई है.

यात्रियों में विभिन्न देशों के यात्री थे. डच अधिकारियों ने बताया है कि मरने वालों में वहाँ के 61 नागरिक शामिल हैं.

एक कर्मचारी ने बताया कि चालक दल में 11 लोग थे और वे सभी लीबियाई नागरिक थे.

इस विमान को त्रिपोली के बाद लंदन की उड़ान भरनी थी.

त्रिपोली से बीबीसी संवाददाता का कहना है कि ये स्पष्ट नहीं है कि जब विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ, उस समय क्या वो रनवे पर था. दुर्घटना के कारणों का पता नहीं चला है. वहाँ मौसम साफ़ था. लीबिया के यातायात मंत्री ने आतंकवाद की घटना से इनकार किया है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार