अफ़ग़ानिस्तान में डेविड बेकम

  • 22 मई 2010
डेविड बेकम
Image caption अफ़ग़ानिस्तान में ब्रिटिश सैनिकों से मुलाक़ात के लिए वर्षों से बेकरार थे डेविड बेकम

इंग्लैड की फुटबॉल टीम के पूर्व कप्तान डेविड बेकम ने अफ़ग़ानिस्तान में ब्रिटिश सैनिकों से मुलाक़ात को अभूतपूर्व अनुभव बताया.

उनका कहना था,''ये लोग सारी दुनिया में सबसे बहादुर लोग हैं और यहां आना मेरे लिए वास्तव में सौभाग्य की बात है.''

35 वर्षीय डेविड बेकम सैनिकों के साथ सवाल जवाब के एक सत्र में हिस्सा लेने पहुंचे थे.

उन्होंने हेलमंद में ब्रिटिश सैनिकों से मुलाक़ात की, जहां ब्रिटेन के लगभग आठ हज़ार सैनिक तैनात हैं.

डेविड बेकम ने सैनिकों के प्रति अपना सम्मान व्यक्त करते हुए कहा,'' इन सैनिकों का हौसला क़ाबिले तारीफ़ है. ये वास्तव में असाधारण है.''

उनका कहना था, "ये सैनिक अपने परिवारों को छोड़ कर आए हैं लेकिन अपने लक्ष्य पर पूरी तरह केंद्रित हैं. इनकी आंखों में दिखता है कि ये कितने आश्वस्त और अपने काम के लिए कितने तत्पर हैं."

डेविड बेकम ने कहा कि जिस माहौल में ये सैनिक काम करते हैं वो बहुत ख़तरनाक़ है. किसी सैनिक की मौत के बाद आधे झुके झंडे बता देते हैं कि कितना तनाव है.

डेविड का कहना था, "मैं बरसों से यहां आना चाहता था लेकिन खेल कार्यक्रमों में व्यस्तता के कारण कभी फ़ुरसत ही नहीं मिली."

डेविड बेकम ने कहा कि ज़ख़्मी होने के कारण उन्हें अपनी ये इच्छा पूरी करने का मौक़ा मिला है.

मैनचेस्टर यूनाइडेड टीम से लोकप्रियता के शिखर पर पहुंचने वाले वाले इंग्लैंड के पूर्व कप्तान डेविड बेकम बाद में रियाल मैड्रिड, लॉस एंजलिस गैलेक्सी और एसी मिलान के लिए भी खेले.

अफ़ग़ानिस्तान में ब्रिटेन के लगभग साढ़े नौ हज़ार सैनिक तैनात हैं.

संबंधित समाचार