हातोयामा के ‘यू-टर्न’ से पड़ी दरार

  • 30 मई 2010
मिजो़हो फ़ुकुशीमा
Image caption ओकिनावा मुद्दे पर विरोध के कारण फ़ुकुशीमा को मंत्री पद से हटाया गया

जापान की गठबंधन सरकार के एक दल सोशल डैमोक्रैटिक पार्टी ने फ़ुतेन्मा विवाद पर गठबंधन सरकार से अपना समर्थन वापस लेने का फ़ैसला कर लिया है.

ओकिनावा स्थित अमरीकी सैन्य अड्डे फ़ुतेन्मा को जापान से हटा देने के चुनावी वादे के साथ प्रधानमंत्री यूकियो हातोयामा ने चुनाव जीता था.

लेकिन अमरीका के साथ हुए एक समझौते के मुतबाकि प्रधानमंत्रई अब फ़ुतेन्मा सैन्य अड्डे को ओकिनावा से हटाकर दक्षिण में कही ले जाने की घोषणा कर चुके हैं.

जापान में अमरीका की फौज का लगभग आधा हिस्सा फ़ुतेन्मा अड्डे पर मौजूद है.

शुक्रवार को यूकियो हातोयामा ने एसडीपी की प्रमुख मिज़ुहो फ़ुकुशीमा को इसी मुद्दे पर विरोध के लिए मंत्री पद से हटा दिया था.

एसडीपी के वरिष्ठ अधिकारियों की एक बैठक में गठबंधन सरकार से समर्थन वापस लेने का फ़ैसला लिया गया.

एसडीपी के महासचिव यासुमासा शिगेनो ने पत्रकारों को बताया, “हम गठबंधन से बाहर हो जाएंगे लेकिन संसद के दोनों सदनों में अन्य दलों के साथ संबंधों की संभावनाएं देखते रहेंगे.”

जापान की संसद के निचले सदन में सत्ताधारी डैमोक्रेटिक पार्टी के पास भारी बहुमत है.

एसडीपी के पास ससंद में हालांकि ज़्य़ादा सीटें नहीं हैं लेकिन उसके समर्थन से सत्ताधारी पार्टी को संसद के ऊपरी सदन मे बहुमत मिला.

विश्लेषकों के मुताबिक ओकिनावा मुद्दे पर घटती लोकप्रियता के बीच ही एसडीपी का समर्थन खो देना, प्रधानमंत्री के लिए एक और आघात साबित होगा.

साल भर पहले चुनाव जीतने के बाद से हातोयामा को जुलाई में अपनी पहली परीक्षा देनी होगी जबकि संसद के ऊपरी सदन के लिए चुनाव होने हैं.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार