तेल सफाई का खर्च 2.65 अरब डॉलर

तेल रिसाव
Image caption अभी तक तेल रिसाव से प्रभावित 41,000 लोगों को भुगतान किया जा चुका है

तेल कंपनी ब्रिटिश पेट्रोलियम (बीपी) के मुताबिक मैक्सिको की खाड़ी में तेल रिसाव की सफाई का खर्च 2.65 अरब डॉलर तक पहुंच गया है.

इस खर्च में रिसाव से प्रभावित क्षेत्रों की सफाई के अलावा पीड़ितों के लिए मुआवज़ा भी शामिल है.

बीपी ने बताया कि मुआवज़े के लिए अभी तक 80,000 से अधिक दावे मिले हैं जिनमें से 41,000 लोगों को भुगतान किया जा चुका है.

इसी साल अप्रैल में अमरीका की मैक्सिको की खाड़ी में अंतरराष्ट्रीय तेल कंपनी ब्रिटिश पेट्रोलियम के एक तेल के कुंए से विस्फोट हो गया था जिसमें 11 लोगों की मौत हुई थी.

इसके बाद से समुद्र में तेल फैल रहा है और अब तक हज़ारों बैरल तेल रिस चुका है.

जी-20 में चर्चा

इसके पहले रविवार को जी-20 की बैठक में अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने बीपी से जुड़ी समस्याओं पर चर्चा की.

बातचीत के बाद जारी वक्तव्य में कहा गया, "दोनों नेता इस बात सहमत थे कि बीपी को तेल रिसाव बंद करने, पर्यावरण की सफाई और मुआवज़े से जुड़ी अपनी ज़िम्मेदारी निभानी चाहिए. दोनों नेताओं ने स्वीकार किया कि बीपी का एक मजबूत कंपनी के तौर पर बना रहना दोनों देशों के हित में है."

बीपी को उम्मीद है कि इस बातचीत के बाद कंपनी पर हो रहे राजनैतिक हमलों पर लगाम लगेगी.

राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इस पर्यावरणीय त्रासदी की तुलना 9/11 के चरमपंथी हमलों से करते हुए कड़ा रुख़ अपनाया था. इसके बाद ही बीपी ने तेल रिसाव के पीड़ितों को मुआवज़ा देने के लिए हामी भरी थी.

अमरीका ने पीड़ितों के मुआवज़े के लिए 20 अरब डॉलर का फंड बनाया है जिसका भुगतान रिसाव के लिए ज़िम्मेदार तेल कंपनी बीपी करेगी.

शेयरों में उछाल

मुआवज़े पर बीपी की ओर से सकारात्मक रुख को देखते हुए आज बीपी के शेयरों में 3.66 फ़ीसदी का इज़ाफा हुआ. अभी बीते शुक्रवार को इन आशंकाओं के बीच कि तेल रिसाव की सफाई के लिए बीपी को और अधिक धनराशि की जरूरत है, उसके शेयर 14 साल के निम्नतम स्तर पर लुढ़क गए थे.

अप्रैल महीने में शुरू हुई तेल त्रासदी के बाद कंपनी के शेयर आधे से भी कम दाम पर आ चुके हैं. हालांकि बीपी पर कानूनी कार्यवाही को लेकर अभी भी निवेशकों में आशंका बनी हुई है.

वैसे, बीपी ने पहले ही कह रखा है कि इस साल वह अपने शेयरधारकों को किसी भी तरह का लाभांश का भुगतान नहीं करेगी.

संबंधित समाचार