अफ़ग़ानिस्तान में नए जनरल की नई रणनीति

डेविड पेत्रियस
Image caption तालेबान का मुक़ाबला सेना और प्रशासन को मिलजुल कर करना होगा

अफ़ग़ानिस्तान में गठबंधन सेना के नए कमांडर जनरल डेविड पेत्रियस ने कहा है कि देश में जारी इस लड़ाई को जीतने के लिए नागरिक प्रशासन और सेना को मिल जुल कर काम करना होगा.

अफ़ग़ानिस्तान में जारी अभियान की कमान संभालने के लिए काबुल पहुंचे जनरल डेविड पेत्रियस ने अमरीकी दूतावास में अफ़ग़ान, अमरीकी और अंतर्राष्ट्रीय मेहमानों को संबोधित करते हुए ये वक्तव्य दिया.

जनरल पेत्रियस ने कहा कि तालिबान का मुक़ाबला करने के लिए सभी को एकजुट होना पड़ेगा, चाहे वो सेना और नागरिक प्रशासन हों चाहे अफ़ग़ान सैनिक और अंतर्राष्ट्रीय सैनिक, सभी को एक टीम का हिस्सा बन कर काम करना होगा.

जनरल पेत्रियस ने कहा, “ये बहुत मुश्किल अभियान है, इसमें आसान कुछ भी नहीं है, लेकिन साझे प्रयासों से हम इस मिशन को सफल बना सकते हैं.”

काबुल पहुंचने से पहले ही जनरल डेविड पेट्रियस ने ये स्वीकार किया था कि पिछले नौ सालों से जारी इस लड़ाई के बावजूद तालिबान की ताक़त कम नहीं हुई है, बल्कि ‘भारी पैमाने पर’ बढ़ती जा रही है.

जनरल पेत्रियस ने ये भी कहा कि अफ़ग़ानिस्तान अभियान में वही रणनीति अपनाई जाएगी जो इराक़ युद्ध के दौरान अपनाई गई थी.

जनरल डेविड पेत्रियस ने जनरल स्टैनली मैक्क्रिस्टल की जगह अफ़ग़ानिस्तान अभियान की कमान संभाली है.

जनरल मैक्क्रिस्टल को हाल ही में तब हटा दिया गया था, जब उन्होंने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर वाशिंगटन के बड़े राजनेताओं की आलोचना की थी.

चुनौती

आने वाले महीनों में जनरल पेत्रियस को बेहद कठिन चुनौतियों का सामना करना है.

अफ़ग़ानिस्तान में तालिबान के हाथों मारे जा रहे नेटो सैनिकों की बढ़ती संख्या उनके लिए एक बड़ी चुनौती है.

ग़ौरतलब है कि नौ सालों से जारी इस लड़ाई में पिछले महीने नेटो के सबसे ज़्यादा यानि 102 सैनिक मारे गए.

उधर क़ंधार में तालिबान के ख़िलाफ़ सितंबर से तेज़ किए जाने वाले अभियान की निगरानी भी उन्हें करनी होगी.

कुशल कूटनीतिज्ञ

जनरल पेत्रियस सन 2007-08 के दौरान यानि इराक़ युद्ध के समय बड़ी तेज़ी से उभर कर आए थे.

इराक़ में विद्रोहियों से निबटने की उनकी रणनीति के अलावा उनके राजनीतिक और कूटनीतिक कौशल की काफ़ी सराहना हुई थी.

अमरीकी रिपब्लिकन पार्टी तो उन्हें अपने संभावित राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में भी देखती रही है.

दिलचस्प बात ये है कि जनरल पेत्रियस अपने कौशल और अपनी महत्वाकांक्षाओं के बावजूद अभी तक ओबामा प्रशासन में वह जगह नहीं ले पाए थे, जो उन्हें पिछले बुश प्रशासन में मिली हुई थी.

लेकिन अफ़ग़ानिस्तान रणनीति के जनक जनरल स्टैनली मैक्क्रिस्टल की जगह लेने के बाद जनरल पेत्रियस अब एक बार फिर सुर्ख़ियों में हैं.

.

संबंधित समाचार