संयुक्त राष्ट्र ने बनाया 'यूएन वुमेन'

  • 3 जुलाई 2010

संयुक्त राष्ट्र ने एक अलग संगठन बनाने का फ़ैसला किया है जिसका मकसद विश्व भर में महिलाओं के अधिकारों के लिए काम करना होगा.

चाल साल तक चली बातचीत के बाद संयुक्त राष्ट्र महासभा ने इस संगठन को मंज़ूरी दे दी है.

अधिकारियों ने कहा है कि लिंग समानता और महिला सशक्तिकरण के लिए बने संयुक्त राष्ट्र के नए गुट का नाम यूएन वुमेन होगा.

ये संगठन अपना काम अगले साल शुरु करेगा. महिलाओं के लिए काम रही संयुक्त राष्ट्र की चार शाखाएँ अब इसी संगठन के तहत काम करेंगी.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने इस मौके पर कहा, “यूएन वुमेन के ज़रिए लिंग समानता को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी और भेदभाव को ख़त्म करने में भी मदद मिलेगी.”

वहीं उप महासचिव आशा-रोज़े मिगिरो ने इसे ऐतिहासिक बताया है.

उन्होंने कहा कि महिलाओं के सशक्तिकरण के काम के लिए अब विशेष संगठन की सेवाएँ मिल पाएँगी.

इस नए संगठन की अध्यक्षता करने के लिए उप महासचिव का नया पद निकाला जाएगा.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार