नए ढक्कन से तेल रिसना बंद

Image caption तेल का रिसना अस्थाई तौर पर रोक लिया गया है

ब्रिटिश तेल कंपनी बीपी का कहना है कि उसने मैक्सिको की खाड़ी में तेल के रिसाव को अस्थाई तौर पर रोक दिया है.

गत 20 अप्रैल को तेल के कुएँ में हुए एक विस्फोट के बाद से यह पहली बार है जब खाड़ी में तेल का रिसना बंद हुआ है.

नए प्रयासों के तहत बीपी ने कुएँ के मुहाने पर एक ढक्कन लगा दिया है. फ़िलहाल यह परीक्षण के तौर पर किया गया है और यह 48 घंटों तक बना रह सकता है.

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इसे सकारात्मक संकेत बताया है लेकिन कहा है कि बीपी अभी भी परीक्षण के दौर में ही है.

बीपी के अधिकारी केंट वेल्स ने कहा है कि तेल का रिसाव स्थानीय समय के अनुसार दोपहर 2.25 पर (भारतीय समय के अनुसार रात 12.55 पर) बंद हुआ और वे इस प्रगति से उत्साहित हैं.

उन्होंने कहा, "यह देखना अच्छा है कि मैक्सिको की खाड़ी में तेल नहीं रिस रहा है."

तेल का रिसाव रुकने के बाद न्यूयॉर्क शेयर बाज़ार में बीपी के शेयरों के भावों में तेज़ी आई है.

लेकिन बीपी ने चेतावनी दी है कि वैसे 48 घंटों तक तेल या गैस का रिसाव नहीं होगा लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि रिसाव स्थाई तौर पर रोक लिया गया है.

अब क्या होगा

तेल के कुएँ के मुहाने पर लगे ढक्कन पर दबाव की जाँच लगातार की जाती रहेगी यदि दबाव कम होता है तो इसका मतलब यह होगा कि कुएँ में नीचे कहीं से तेल अब भी बह रहा है.

यदि दबाव बना रहता है तो यह बीपी और सरकार को तय करना होगा कि कुएँ को बंद ही रखना है या फिर तेल को पाइप के ज़रिए ऊपर सतह तक पहुँचाना है.

आपात मामलों के अमरीकी अधिकारी एडमिरल थाड एलन ने कहा है कि यदि यह सफल होता है तो भी कुएँ को खोला जाएगा और तेल सतह पर खड़े जहाज़ों तक पहुँचाया जाएगा.

उनका कहना है कि इसके बाद एक बार फिर दबाव बनाकर देखा जाएगा और फिर इसे स्थाई तौर पर बंद भी किया जा सकता है.

संबंधित समाचार