तूफ़ान के कारण दर्जनों जहाज़ खाड़ी से बाहर जाएँगे

अमरीकी सरकार ने मेक्सिकों की खाड़ी में काम कर रहे दर्जनों समुद्री जहाज़ों को तेल रिसाव के क्षेत्र से बाहर जाने का आदेश दिया है. वहाँ शनिवार तक समद्री तूफ़ान बोनी के आने की संभावना है.

उधर अमरीका के एक वरिष्ठ वैज्ञानिक ने बीपी कंपनी पर आरोप लगाया है कि वह तेल रिसाव के विषय पर सबसे बेहतर वैज्ञानिकों और शिक्षकों को 'प्रभावित' करने का प्रयास कर रही है.

'वैज्ञानिक आश्वस्त हैं'

तेल रिसाव और उससे संबंधित विषयों पर नज़र रख रहे अमरीकी प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी एडमिरल थड एलेन ने कहा है कि इससे तेल के कुँए से जुड़े काम में कुछ देर हो सकती है लेकिन वहाँ काम कर रहे लोगों की सुरक्षा प्राथमिकता है.

तेल का रिसाव रोकने के लिए लगाए गए अस्थायी ढक्कन इस दौरान कुछ दिन तो नज़र नहीं रखी जाएगी.

एडमिरल एलेन का कहना है कि वैज्ञानिक आश्वस्त हैं कि ढक्कन सुरक्षित है और अपनी जगह से अब नहीं हिलेगा.

अमरीका के नेशनल हरिकेन सेंटर का कहना है कि तूफ़ान बोनी के कारण 65 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से हवाएँ चलने की संभावना है.

इस तूफ़ान के कारण हेती, पुयर्टो रिको और डोमिनिकन रिपब्लिक में पहले ही पानी भर गया है और अब यह बाहमास की तरफ़ उत्तर-पश्चिमी दिशा में जा रहा है.

बीपी के ख़िलाफ़ 300 मामले

अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ़ प्रोफ़ेसर्स के अध्यक्ष केरी नीलसन का कहना है, "यह एक बहुत बड़ी कंपनी है जो कि वैज्ञानिकों की चुप्पी सुनिश्चित करने के व्यापक प्रयास कर रही है."

बीपी कंपनी के ख़िलाफ़ अब तक तेल रिसाव मामले में 300 से अधिक क़ानूनी मामले आ चुके हैं.

बीपी ने अपने बयान में कहा है कि उसने मेक्सिको की खाड़ी में काम के जानकार एक दर्जन से अधिक राष्ट्रीय और स्थानीय वैज्ञानिकों की सेवाओं को इस्तेमाल करने का फ़ैसला किया है.

बीबीसी के पास इन वैज्ञानिकों के साथ किए गए अनुबंध की प्रति है जिसमें कहा गया है वे अपने शोध को सार्वजनिक तौर पर छाप नहीं सकते और वहाँ से एकत्र की गई जानकारी के बारे में तीन साल तक बात नहीं कर सकते हैं.

इन वैज्ञानिकों को वकीलों और बीपी के अन्य प्रबंधकों से आदेश लेने पर भी बाध्य किया गया है.

साऊद एलाबामा विश्वविद्यालय के समुद्रों से संबंधित विज्ञान विभाग के अध्यक्ष बॉब शिप के साथ बीपी ने संपर्क किया था लेकिन वे उनके पूरे विभाग का सहयोग चाहते थे.

बॉब शिप का कहना था, "हमने कहा कि हम जो भी शोध करेंगे उसमें हमें पूरे क्षेत्र के मिली सामग्री पर नियंत्रण, पारदर्शिता और उस सामग्री को अन्य वैज्ञानिकों को उपलब्ध कराने की आज़ादी चाहिए. इसके बाद वो लोग (बीपी) चले गए और फिर उन्होंने हमारे साथ संपर्क नहीं किया."

संबंधित समाचार