दस्तावेज़ों में नई बात नहीं: ओबामा

Image caption विकीलीक्स पर प्रकाशित दस्तावेज़ों में अफ़ग़ानिस्तान में जारी लड़ाई के बारे में विस्तृत जानकारी है

अमरीकी राष्ट्रपति ओबामा ने कहा है कि अफ़ग़ानिस्तान युद्ध के गुप्त माने जाने वाले दस्तावेज़ों के लीक होने से वहाँ की स्थिति के बारे में कोई नई बात सामने नहीं आई है.

उनका कहना था कि वहाँ की स्थिति के बारे में लोगों को जानकारी है.

सोमवार को राष्ट्रपति ओबामा ने इस विषय पर पहली बार प्रतिक्रिया व्यक्त की और संवेदनशील दस्तावेज़ों के सामने आने पर चिंता व्यक्त की.

ओबामा का कहना था कि इन दस्तावेज़ों से अफ़ग़ानिस्तान के बारे में अमरीकी नीति की समीक्षा का उनका फ़ैसला सही साबित होता है.

उनका कहना था कि अफ़ग़ानिस्तान को लेकर पुरानी नीति विफल साबित हुई.

ग़ौरतलब है कि इन दस्तावेज़ों में कहा गया है कि पाकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई ने अफ़ग़ानिस्तान में युद्ध में तालिबान की मदद की है.

विस्तृत जानकारी

लीक हुए दस्तावेज़ वेबसाइट विकीलीक्स पर प्रकाशित हुए हैं और उनमें अफ़ग़ानिस्तान में जारी लड़ाई के बारे में विस्तृत जानकारी है.

इसमें ऐसे मौतों के बारे में भी बताया गया है जिनके बारे में अब तक जानकारी नहीं थी.

इन दस्तावेज़ों में नैटो की इस अंदरूनी चिंता को ज़ाहिर किया गया है कि पाकिस्तानी ख़ुफ़िया तंत्र ने तालिबान की मदद की.

व्हाइट हाउस ने लीक की इस घटना की निंदा करते हुए कहा है कि इससे अमरीका की सुरक्षा को ख़तरा हो सकता है.

अफ़ग़ान वॉर डायरी के नाम से प्रकाशित ये दस्तावेज़ अमरीका में तथ्य लीक होने की सबसे बड़ी घटनाओं में से एक है.

व्हाइट हाउस प्रवक्ता ने कहा कि हालांकि अफ़ग़ानिस्तान के युद्ध के बारे में नई बातें सामने नहीं आई हैं लेकिन ये जानकारियाँ नुकसानदेह हो सकती हैं.

संबंधित समाचार