प्रधानमंत्री राहत कार्य देख रहे हैं: ज़रदारी

आसिफ़ अली ज़रदारी
Image caption ज़रदारी ने कहा प्रधानमत्री अपनी ज़िम्मेदारी निभा रहे हैं

पाकिस्तान में पिछले 80 साल में आई भीषण बाढ़ के समय ब्रिटेन का दौरा कर रहे पाकिस्तानी राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी ने इस मुद्दे पर अपनी आलोचना को ख़ारिज किया है.

पाकिस्तान और विदेश में राष्ट्रपति ज़रदारी की इसलिए आलोचना हो रही है क्योंकि भीषण बारिश के कारण देश में आई बाढ़ से लगभग 1.4 करोड़ प्रभावित हुए हैं.

ब्रिटेन में लेबर पार्टी के सांसद ख़ालिद महमूद ने राष्ट्रपति ज़रदारी पर आरोप लगाया है कि उन्हें 'अपने लोगों के साथ न कोई सहानुभूति है और न वे उनके दर्द को समझते हैं.'

जब बीबीसी के न्यूज़नाइट कार्यक्रम पर उन्हें इस आलोचना के बारे में पूछा गया तो उन्होंने सभी आरोपों को ख़ारिज किया.

ज़रदारी का कहना था, "मुझे स्थिति के बारे में लगातार सूचना मिल रही है. संसद का सत्र चल रहा है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री देश के मुख्य कार्यकारी हैं और ये उनकी ज़िम्मेदारी है और वे अपनी ज़िम्मेदारी निभा रहे हैं."

राष्ट्रपति ज़रदारी का कहना था कि उन्हें इस विदेश यात्रा के दौरान आबूधाबी, फ़्रांस और ब्रिटेन से बाढ़ प्रभावितों की मदद के लिए आर्थिक सहायता का आश्वासन मिला है.

पाकिस्तान के राष्ट्रपति ने उन आरोपों का खंडन किया जिनमें ये कहा गया था कि पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई किसी आधिकारिक नीति के तहत तालिबान को समर्थन दे रही है. उनका कहना था ये 'कहा-सुनी पर आधारित है और खाली बैठे लोगों की बातें हैं.'

उन्होंने आईएसआई पर अपना नियंत्रण न होने की बातों को मीडिया की मनगढ़ंत रिपोर्टें बताया और दावा किया कि शुरु से ही आईएसआई प्रमुख की उनके साथ ब्रिटेन दौरे पर जाने की कोई योजना नहीं थी.

संबंधित समाचार