ओबामा, धर्म और एक हाज़िर जवाब नाई

  • 7 अगस्त 2010
मिशेल ओबामा
Image caption मिशेल ओबामा सोमाली महिलाओं से बात करतीं हुईं.

अगर पति से अधिक पत्नी लोकप्रिय हो तो पति क्या करता है? पत्नी को छुट्टी मनाने विदेश भेज देता है. यही किया राष्ट्रपति बराक ओबामा ने. चार अगस्त को राष्ट्रपति 49 वर्ष के हो गए.

लेकिन अपनी सालगिरह के दिन वो अकेले थे, क्योंकि उसी दिन उनकी पत्नी मिशेल ओबामा और उनकी बेटी साशा स्पेन में छुट्टियां मनाने चली गयीं. उनकी दूसरी बेटी माली कैम्पिंग पर निकल गयीं.

अपने अकेलेपन का फ़ायदा उठाते हुए ओबामा वर्षगांठ के कई समारोहों में शामिल हुए ताकि डेमोक्रेटिक पार्टी के कार्यकर्ताओं को नवम्बर में होने वाले कांग्रेस के मध्यवर्ती चुनाव के लिए तैयार कर सकें और अपनी गिरती हुई लोकप्रियता पर अंकुश लगाने के लिए उनकी सहायता ले सकें.

हाल के कई सर्वेक्षणों से पता चलता है कि इस समय राष्ट्रपति ओबामा से ज़्यादा उनकी पत्नी लोकप्रिय हैं.

यहाँ एक टीवी चैनल पर एक कॉमेडी शो में एक ने हँसते हुए कहा कि ओबामा मिशेल की लोकप्रियता से असुरक्षित महसूस करने लगे थे इसीलिए परिवार को छुट्टी मनाने भेज दिया.

धर्म का बोलबाला

अमरीका में धर्म का बोलबाला है. मेरे घर पर आम तौर से कोई मेहमान नहीं आता क्योंकि वॉशिंगटन में मैं अभी नया हूँ. लेकिन एक दिन दरवाज़े पर किसी ने दस्तक दिया तो मैं हैरान हुआ और दरवाज़े पर पाया दो युवा लड़कियों को.

मैंने समझा ये मेरे पडोसी हैं और मुझसे अपना परिचय कराने आए हैं. परिचय तो कराया लेकिन प्रचार करने के लिए, ईसाई धर्म के प्रचार के लिए. उन्होंने मुझे ईसाई धर्म के बारे में कुछ किताबें दीं और सच्चे रास्ते पर चलने की दुआएं देकर चली गयीं.

वॉशिंगटन के कई मेट्रो स्टेशन के बाहर ईसाई धर्म का प्रचार करते और आपको किताबें और पर्चे थमाते इस तरह के लोग मिल जाएंगे.

अगर किसी नेता को चुनाव लड़ना हो तो उसे एक अच्छे ईसाई होने का सुबूत देना पड़ता है. देश की ख़राब अर्थव्यवस्था से दुकानें बंद हो रही हैं और कारोबार ठप पड़े हैं. लेकिन इसके बावजूद हर साल यहाँ साढ़े चार हज़ार के करीब नए गिरजाघर बनते हैं.

सत्तर फ़ीसदी लोग किसी न किसी चर्च से जुड़े होते हैं और हफ़्ते में एक दिन चर्च ज़रूर जाते हैं. मज़हब का सुपर मार्केट देखना हो तो यहाँ के टीवी चैनलों पर एक नज़र डालें. पूरे देश में लगभग 800 ऐसे चैनल हैं जो बाइबल के इर्दगिर्द चलते हैं.

राष्ट्रपति बनने के लिए एक अच्छा ईसाई होना ज़रूरी मालूम होता है. जिम्मी कार्टर राष्ट्रपति बनने से पहले एक पादरी हुआ करते थे.

जॉर्ज बुश को उनके समर्थक भगवान की तरफ से चुना हुआ राष्ट्रपति समझते थे. आम सभाओं में ख़ुदा का नाम लेना और बाइबल का हवाला देना आम बात है. अमरीका में भगवान हर जगह है.

हाज़िर जवाब अमरीकी

Image caption नाई की हाज़िर जवाबी कमाल की थी.

अमरीकी हाज़िर जवाब होते हैं, ये मैंने सुना तो था लेकिन इसका हाल में अनुभव भी हुआ.

पिछले हफ़्ते मैं बाल कटवाने एक नाई की दूकान पर गया. जब से मैंने अपने घर के पास एक नाई की दूकान के बाहर 20 डॉलर लिखा देखा तब से बाल कटवाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा था.

वैसे भी मेरे सिर पर अधिक बाल नहीं बचे हैं. लेकिन हिम्मत जुटा कर एक दिन अंदर गया और धीरे से एक चीनी-अमरीकी नाई से कहा, “भाई हमें डिस्काउंट दो क्योंकि हमारे सिर पर ज़्यादा बाल नहीं बचे हैं और इसलिए तुम्हें ज़्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ेगी.”

वो पहले तो हंसा फिर हवा में कैंची चलाई और बोला, “मेरे दोस्त मैं तुमसे 25 डॉलर लूंगा.” मैंने हैरानगी जताई, तो वो फिर हंसा और बोला: "तुम्हारे सिर पर बाल इतने कम हैं कि बालों को ढूँढना पड़ेगा और ज़ाहिर है इसमें समय ज़्यादा लग सकता है."

संबंधित समाचार