'धर्म मानो वरना...'

रूसी ऑर्थोडॉक्स चर्च के पादरी
Image caption रूसी ऑर्थोडॉक्स चर्च ने बॉयको की निंदा की है

एक रुसी व्यवसायी ने अपने यहाँ काम करनेवाले लोगों से कहा है कि वे चर्च के तरीकों को अपनाएँ या फिर अपनी नौकरी से हाथ धोने के लिए तैयार हो जाएँ.

व्यवसायी का नाम वसीली बॉयको है और वो ख़ुद को रुस के पुराने शासक 'इवान द ग्रेट' की तर्ज़ पर 'वसीली बायको द ग्रेट' बुलाता है.

वसीली बायको मॉस्को में डेयरी का कारोबार चलाते हैं और उनका कहना है कि रूस में हाल में पड़ी भीषण गर्मी 'रूसियों के पाप का फल है.'

वसीली बॉयको का कहना है कि इससे छुटकारा पाने के लिए कड़े क़दम उठाए जाने की आवश्यकता है.

वसीली बॉयको ने अपने कर्मचारियों से कहा है कि वे दो महीनों के भीतर चर्च में जाकर अपने पार्टनरों से शादी करें वरना वे अपनी नौकरी से हाथ धो बैठेंगे.

उन्होंने इसके लिए रुसी क्रांति का दिन, 14 अक्टूबर तय भी कर दिया है. उन्होंने अपने कर्मचारियों के गर्भपात कराने पर रोक लगा दी है.

वसीली बॉयको का कहना है कि ऐसा करने के लिए उन्हें हाल के मौसम ने बाध्य किया है. बॉयको के मुताबिक बढ़े हुए तापमान की वजह से इस बार उनकी डेयरी में दूध का उत्पादन पाँच गुना कम हुआ है.

बॉयको ने बीबीसी को बताया कि वो एक निजी कंपनी के मालिक हैं और उन्हें अपनी कंपनी के लिए क़ानून बनाने का का हक़ है.

लेकिन रूसी ऑर्थोडॉक्स चर्च ने वसीली बॉयको की निंदा की है और कहा है कि उनके व्यवहार से चर्च की छवि को धक्का पहुँचा है.

संबंधित समाचार