असांजे के ख़िलाफ़ वारंट निरस्त

जूलियन असांजे
Image caption असांजे ने अफ़ग़ानिस्तान से जुड़े हज़ारों और दस्तावेज़ों को प्रकाशित करने की मंशा व्यक्त की है

स्वीडन के अधिकारियों ने विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे की गिरफ़्तारी का वारंट जारी करने के एक दिन बाद निरस्त कर दिया है.

शुक्रवार को वारंट जारी करते हुए अधिकारियों ने कहा था कि असांजे के ख़िलाफ़ बलात्कार और छेड़छाड़ के दो आरोप हैं.

स्वीडन के अभियोजन विभाग के मीडिया प्रभारी कैरिन रोज़ांडर ने आरोपों के बारे में और कोई जानकारी नहीं दी थी, सिर्फ़ इतना बताया था कि कथित अपराध स्वीडन में हुए हैं.

लेकिन शनिवार को स्वीडिश अभियोजन विभाग की वेबसाइट पर दी गई सूचना में कहा गया है कि मुख्य अभियोजक ने असांजे की गिरफ़्तारी के वारंट को निरस्त कर दिया है. स्पष्टीकरण देते हुए वेबसाइट पर दर्ज किया गया है कि असांजे कथित बलात्कार के मामले में संदिग्ध नहीं हैं.

गभीर सवाल

वारंट जारी होने की ख़बर आने के बाद विकीलीक्स ने अपनी वेबसाइट और ट्विटर संदेशों के ज़रिए आरोपों को सिरे से ख़ारिज कर दिया था. विकीलीक्स का कहना था कि आरोपों के बारे में किसी से कोई संपर्क नहीं किया गया है.

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों ने अमरीका के भारी दबाव के बाद भी विकीलीक्स ने अफ़ग़ानिस्तान युद्ध पर क़रीब 90 हज़ार ख़ुफ़िया सैन्य दस्तावेज़ प्रकाशित किए थे. इन लीक दस्तावेज़ों से अफ़ग़ानिस्तान में अमरीकी सैन्य नीति पर कई गंभीर सवाल उठ खड़े हुए हैं.

असांजे ने इसी सिलसिल में 15 हज़ार और दस्तावेज़ प्रकाशित करने की मंशा व्यक्त की है.

माना जाता है कि इन दस्तावेज़ों में बहुत ही संवेदनशील सूचनाएँ हैं.

अमरीकी राष्ट्रपति का कार्यालय व्हाइट हाउस विकीलीक्स से शेष दस्तावेज़ प्रकाशित नहीं करने की अपील कर चुका है. जबकि अमरीकी रक्षा विभाग पेंटागन ने इस बारे में चेतावनी दी है.

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है