ईरान ने तैयार किया ड्रोन

कर्रार
Image caption ईरान के विवादित परमाणु कार्यक्रमों पर पश्चिमी देशों की चिंताओं के बीच ही इस ड्रोन का अनावरण हुआ है

ईरान के राष्ट्रपति महमूद अहमदीनेजाद ने पहले स्वदेशी बमवर्षक ड्रोन का अनावरण किया है.

'कर्रार' नाम का ये ड्रोन लगभग एक हज़ार किलोमीटर की दूरी तक बमबारी करने में सक्षम है.

अहमदीनेजाद का कहना था कि ये ड्रोन दोस्ती का संदेशवाहक है, लेकिन दुश्मन के लिए मौत बन कर आएगा.

ईरान के प्रतिरक्षा दिवस के मौक़े पर राष्ट्रपति महमूद अहमदीनेजाद ने इस ड्रोन की क्षमताओं के बारे में बताया.

उनका कहना था," ये ड्रोन मानवता का रखवाला, मानवीय उदारता और गौरव का संदेशवाहक है, लेकिन दुश्मनों के लिए ये मौत बन जाएगा. इसका संदेश दोस्ती है, इसका संदेश जानलेवा टकरावों को रोकना है."

ईरानी टेलीविजन की रिपोर्टों में बताया गया है कि एक हज़ार किलोमीटर तक बमबारी की की क्षमता रखने वाला 'कर्रार' ड्रोन 115 किलो बम ले जाने में सक्षम है.

एक हज़ार किलोमीटर के दायरे में ईरान के पड़ोसी देश आते हैं लेकिन इसराइल इसकी पहुंच से बाहर होगा.

ईरान दुनिया को यह बताने के लिए हमेशा उत्सुक रहा है कि वह बाहरी ख़तरों अपनी रक्षा करने में पूरी तरह सक्षम है.

ईरान के विवादित परमाणु कार्यक्रमों पर जताई जा रही चिंताओं के बीच ही 'कर्रार' ड्रोन का अनावरण हुआ है.

शनिवार को रूस द्वारा निर्मित और संचालित बुशेहर परमाणु संयंत्र में ईंधन भरने का काम शुरू किया जा चुका है.

कर्रार ड्रोन के अनावरण से दो दिन पहले ही ईरान ने ज़मीन से ज़मीन पर मार करने वाली देश में निर्मित मिसाइल का परीक्षण किया था.

पश्चिमी देश ईरान पर ये आरोप लगाते हैं कि वह परमाणु हथियार हासिल करने के लिए परमाणु कार्यक्रम चला रहा है, लेकिन ईरान इन आरोपों के जवाब में यही कहता रहा है कि उसके परमाणु कार्यक्रम शांतिपूर्ण उद्देश्यों के लिए हैं.

संबंधित समाचार