पर्यटकों से भरी बस अगवा

  • 23 अगस्त 2010
Image caption बस हांगकांग के एक पार्क में खड़ी है

फ़िलीपींस की राजधानी मनीला में नौकरी से निकाले गए एक पुलिसकर्मी ने बंदूक की नोक पर पर्यटकों से भरी एक बस को अगवा कर लिया है.

थोड़ी देर पहले बस में गोलियाँ चलने की आवाज़ सुनी गई है जिसके बाद पुलिस ने बस को चारों तरफ़ से घेर लिया है. यह पता नहीं चल सका है कि बस के भीतर मौजूद लोगों में से किसी को गोली लगी है या नहीं.

स्थानीय टीवी चैनल इस घटना का सीधा प्रसारण कर रहे हैं. बताया जा रहा है कि दंगा निरोधक पुलिस के जवानों ने बस का पिछला दरवाज़ा खोल दिया था लेकिन गोलियाँ चलने के बाद उन्हें वहाँ से पीछे हटना पड़ा.

स्थानीय टीवी चैनलों का कहना है कि डकैती और मादक पदार्थों का सेवन करने के आरोप में नौकरी से निकाले गए पुलिस इंस्पेक्टर की माँग है कि उसकी नौकरी बहाल की जाए.

इंस्पेक्टर रोनाल्डो मैंडोज़ा को 2008 में नौकरी से निकाल दिया गया था.

एम-16 राइफ़ल का भय दिखाकर इंस्पेक्टर ने 25 पर्यटकों से भरी बस को अगवा कर लिया जिसमें बच्चे भी शामिल हैं.

अपहर्ता ने 25 में से आठ लोगों को छोड़ दिया है लेकिन अब भी बस में 17 लोग हैं.

बस में सवार सभी पर्यटक हांगकांग से हैं और बस में सिर्फ़ तीन फिलीपीनी नागरिक हैं, ड्राइवर, गाइड और एक फोटोग्राफ़र.

अपहर्ता ने जिन आठ लोगों को अब तक रिहा किया है उनमें तीन बच्चे शामिल हैं.

बस इस समय एक पार्क में खड़ी है और पार्क को चारों तरफ़ से घेर दिया गया है और विदेशी बंधकों को छुड़ाने की कोशिश जारी है.

संबंधित समाचार