पहली बार दिखे किम जोंग के उत्तराधिकारी

किम जोंग-उन
Image caption संभावित उत्तराधिकारी किम जोंग-उन उत्तर कोरिया में तीसरी पीढ़ी के शासक होंगे

उत्तर कोरिया के राष्ट्रीय टेलीविजन पर पहली बार किम जोंग-इल को उनके सबसे छोटे बेटे और उत्तराधिकारी किम जोंग-उन के साथ दिखाया गया है.

उत्तर कोरिया की राजधानी में वर्कर्स पार्टी की 65वीं वर्षगांठ पर विशाल सैनिक परेड के दौरान किम जोंग-इल अपने बेटे के साथ मौजूद थे.

परेड के दौरान प्रदर्शित की जा रही मिसाइलों पर कोरियाई पीपुल्स आर्मी का नारा लिखा था-"अमरीकी सेना को हराओ. अमरीकी सैनिक कोरियाई पीपुल्स आर्मी के दुश्मन हैं."

माना जाता है कि यह वर्षगांठ समारोह उत्तर कोरिया के इतिहास में अब तक का सबसे बड़ा समारोह है.

स्विटज़रलैंड में पढ़े और 27 वर्षीय किम जोंग-उन को अभी पिछले महीने ही सरकार में वरिष्ठ पद दिया गया.

तीसरी पीढ़ी

विश्लेषकों का कहना है कि ये घटनाएं इस बात को साबित करती हैं कि उन्हें अपने पिता का उत्तराधिकारी बनाने की तैयारी की जा रही है. वे किम वंशज के तीसरी पीढ़ी के शासक होंगे.

एक सरकारी अधिकारी का कहा, "हमारे देश का भविष्य उज्जवल है. कोरियाई उक्ति के मुताबिक महान अध्यापक महान छात्र पैदा करते हैं, महान माता-पिता के बच्चे महान होते हैं."

किम जोंग-इल ने 1994 में अपने पिता किम इल सुंग के निधन के बाद देश की सत्ता संभाली थी.

बताया जाता है कि मौजूदा शासक किम जोंग-इल का स्वास्थ्य ठीक नहीं है और वे अपने जीते-जी उत्तराधिकार के प्रश्न पर पक्का फ़ैसला कर देना चाहते हैं.

साल 1948 में कोरिया के दो हिस्से हुए थे और उत्तर कोरिया का नेतृत्व वामपंथी रुझान वाले किम इल सुंग ने संभाला था, उन्होंने आत्मनिर्भरता का नारा दिया था.

परमाणु हथियारों के मसले पर उत्तर कोरिया के संबंध पश्चिमी देशों से काफ़ी खराब हैं और यह देश अपनी अर्थव्यवस्था को बदहाली से बचाने के लिए जूझ रहा है.

संबंधित समाचार