'फ़्रांस पर अल-क़ायदा हमले का ख़तरा'

  • 18 अक्तूबर 2010
फ़्रांस के गृह मंत्री
Image caption गृह मंत्री के मुताबिक़ हमले का ख़तरा गंभीर

फ़्रांस के गृह मंत्री ब्रायस हौरटीफ़्युक्स ने कहा है कि सऊदी अरब सरकार ने सूचना दी है कि अल-क़ायदा की यूरोपीय शाखा यूरोप ख़ासकर फ़्रांस में चरमपथी हमले की तैयारी कर रही है.

गृह मंत्री ने रेडियो और टीवी को दिए गए एक संयुक्त साक्षात्कार में कहा कि अल-क़ायदा के हमले का ख़तरा एक सच्चाई है.

गृह मंत्री ने हालाँकि इस संबंध में ज्यादा जानकारी देने से इनकार कर दिया कि सऊदी अरब से क्या ख़ुफ़िया जानकारी मिली है.

ऐसा लगता है कि सरकार ने ये जानकारी सिर्फ़ इसलिए आम जनता के साथ बांटी है ताकि फ़्रांस की जनता सचेत रहे.

हौरटीफ़्युक्स के मुताबिक़ एक साल में लगभग दो चरमपंथी हमले की साज़िशों को नाकाम किया जाता है. उन्होंने बताया कि चरमपंथी हमलों में शामिल होने के शक के आधार पर कुल 61 लोग फ़िलहाल जेल में हैं.

लोगों में डर

कुछ लोगों ने इसकी ये कहते हुए आलोचना की है कि इससे लोगों में डर फैल रहा है, लेकिन गृह मंत्री का मानना है कि इस बार हमले का ख़तरा ज्यादा है.

इससे पहले इंटरपोल ने नौ सितंबर को अल-क़ायदा की तरफ़ से यूरोप में चरमपंथी हमले किए जाने की चेतावनी दी थी.

इस चेतावनी के बाद अमरीका, जापान और दूसरे कई देशों ने अपने नागरिकों को सलाह दी थी कि वो यूरोपीय देशों का दौरा करते वक़्त एहतियात बरतें.

फ़्रांस ने सऊदी अरब की तरफ़ से चेतावनी दिए जाने के बाद पर्यटक स्थलों पर सुरक्षा बढ़ा दिया है.

पिछले एक महीने में इफ़ेल टावर को दो बार बंद किया जा चुका है.

अधिकारियों का कहना है कि अल-क़ायदा 2008 में मुंबई पर होने वाले आत्मघाती हमले जैसी कार्रवाई की तैयारी कर रहा है.

संबंधित समाचार