शी जिन्पिंग हो सकते हैं चीन के नए नेता

हु जिन्ताओ और शी जिन्पिंग
Image caption शी जिन्पिंग (नीचे) वर्ष 2013 में हु जिंताओ (ऊपर) की जगह देश के राष्ट्रपति बन सकते हैं

चीन के उपराष्ट्रपति शी जिन्पिंग को देश के अत्यंत प्रभावशाली केंद्रीय सैन्य आयोग का उपाध्यक्ष बनाया गया है जिससे उन्हें राष्ट्रपति हु जिंताओ का संभावित उत्तराधिकारी समझा जा रहा है.

हु जिंताओ को वर्ष 2012 में पार्टी प्रमुख और 2013 में राष्ट्रपति के पद से सेवानिवृत्त होना है.

शी जिन्पिंग की तरह हु जिंताओ को भी इसी तरह सैन्य आयोग का उपाध्यक्ष बनाया गया था जिसके बाद वे देश के राष्ट्रपति बने.

शी जिन्पिंग की प्रोन्नति का फ़ैसला सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी की वार्षिक बैठक के अंतिम दिन लिया गया जब पार्टी की 200 वरिष्ठ सदस्यों वाली केंद्रीय समिति ने इसे स्वीकार किया.

57 वर्षीय शी जिन्पिंग अभी हु जिंताओ के निर्देश पर काम करेंगे जो चीन के 23 लाख सैनिकों वाली सेना - पीपुल्स लिबरेशन आर्मी - का नियंत्रण करनेवाली सैन्य समिति के प्रमुख हैं.

शी जिन्पियांग चीन में कम्युनिस्ट पार्टी के संस्थापकों में से एक ज़ी ज़ोंगशुन के बेटे हैं.

समीकरण

चीन में देश का राष्ट्रपति बनने के लिए सैन्य आयोग के साथ-साथ सरकार में भी उच्च पद पर नियुक्ति को ज़रूरी समझा जाता है.

सैन्य आयोग के उपाध्यक्ष की नियुक्ति से पहले वर्ष 2007 में शी जिन्पिंग को पार्टी के भीतर पोलित ब्यूरो की स्थायी समिति में शामिल किया गया और फिर अगले वर्ष चीन का उपराष्ट्रपति बना दिया गया.

पोलित ब्यूरो की स्थायी समिति के नौ सदस्यों में से सात सदस्य वर्ष 2012 में समिति से हट जाएँगे क्योंकि तब उनका इस पद पर दूसरा कार्यकाल पूरा हो जाएगा.

इसके बाद इस समिति में मात्र दो सदस्य ऐसे बचेंगे जिनके देश का अगला राष्ट्रपति बनने की संभावना रहेगी – शी जिन्पिंग और ली केचियांग.

अब सैन्य समिति के उपाध्यक्ष के पद पर शी जिन्पिंग की नियुक्ति को इस बात का संकेत माना जा रहा है कि देश के अगले नेता वही हो सकते हैं.

सेना और सरकार

Image caption उपराष्ट्रपति शी जिन्पिंग के पिता कम्युनिस्ट पार्टी के एक संस्थापक थे

चीन में सभी बड़े नेताओं के लिए सेना पर नियंत्रण और सेना का सहयोग ज़रूरी माना जाता है.

कम्युनिस्ट पार्टी का अस्तित्व अंततः सशस्त्र सेना पर निर्भर रहता है.

इसी कारण चीन में राजनेता पार्टी के केंद्रीय सैन्य आयोग के पदों पर भी रहते हैं.

चीन के पूर्व नेता देंग ज़ियाओपिंग और जियांग ज़ेमिन दूसरे सरकारी और पार्टी पदों से अलग होने के बाद भी सैन्य आयोग में अपने पदों पर बने रहे.

व्यक्तित्व

शी जिन्पियांग चीन में कम्युनिस्ट पार्टी के संस्थापकों में से एक शी ज़ोंगशुन के बेटे हैं और राजनीति में उनकी उन्नति को कुछ हद तक उनके पारिवारिक संपर्कों से जोड़कर देखा जाता है.

उन्हें एक साफ़-सपाट बात करनेवाला नेता और भ्रष्टाचार के विरूद्ध लड़नेवाला नेता माना जाता है.

उनकी पत्नी पेंग लियुआन चीन की एक जानी-मानी गायिका हैं.

उन्होंने 1974 में कम्युनिस्ट पार्टी की सदस्यता ली.

वर्ष 2000 में भ्रष्टाचार के एक मामले को निपटाने के बाद उन्हें फ़ूजियान प्रांत का गवर्नर बनाया गया.

संबंधित समाचार