'साइबर अपराध सबसे बड़ा ख़तरा'

ब्रिटेन सरकार ने कहा है कि कम्प्यूटर नेटवर्कों पर हमले ब्रिटेन के लिए सबसे बड़े ख़तरों में से एक हैं.

साइबर सुरक्षा के लिए अतिरिक्त 50 करोड़ पाउंड दिए जाएँगे. विदेश सचिव विलियम हेग ने कहा है कि अगर इस ख़तरे से निपटा नहीं गया तो ये ब्रिटेन के आर्थिक ताने बाने को बिगाड़ सकता है.

मंगलवार को रक्षा बजट पर पुनर्विचार होना है और कहा जा रहा है कि अगले चार वर्षों के दौरान रक्षा बजट में आठ फ़ीसदी की कटौती हो सकती है.

इसके अलावा बुधवार को ब्रिटेन में खर्च को लेकर भी विचार होना है जिसमें रक्षा मंत्रालाय, गृह मंत्रालय और विदेश मंत्रालय सबके बजट में कटौती की आशंका है.

ब्रिटेन को होने वाले ख़तरों को 16 श्रेणियों में बाँटा गया है. नई राष्ट्रीय सुरक्षा रणनीति रिपोर्ट में पहली श्रेणी में साइबर अपराध, आतंकवाद, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कोई सैन्य समस्या जिसका असर ब्रिटेन पर भी हो और फ़्लू जैसी महामारी को गिना गया है.

दूसरी श्रेणी में विनाशकारी हथियारों से ब्रिटेन पर हमला या संगठित अपराध में बढ़ोतरी को रखा गया है.

बीबीसी के रक्षा मामलों के संवाददाता फ़्रैंक गार्डनर का कहना है कि साइबर सुरक्षा के लिए अतिरिक्त पैसा इस जानकारी के बाद आया है कि सैकड़ों ई-मेल ऐसी हैं जो सरकारी कम्प्यूटर नेटवर्क को निशाना बना रही हैं.

संबंधित समाचार