हैजा बना महामारी, रोकथाम की कोशिश

हेती में हैजा

हेती में हैजा ने महामारी का रूप ले लिया है. सहायताकर्मी हैजे की रोकथाम की कोशिश कर रहे हैं लेकिन अभी तक सफल नहीं हो पाए हैं.

अब तक हैजे ने हेती में 200 से अधिक लोगों की जान ले ली है और अनेक लोग इसके संक्रमण का शिकार हैं.

चिंता की बात ये है कि संक्रमण अब हेती की राजधानी पोर्ट-ओ-प्रिंस के नजदीक पहुँच रहा है.

जनवरी में आए विनाशकारी भूकंप के बाद हज़ारों लोग अब भी अस्थाई शिविरों में रहे हैं.

उल्लेखनीय है कि हेती में जनवरी में आए भूंकप ने भीषण तबाही मचाई थी और लाखों लोग बेघर हो गए थे.

हालांकि अभी तक ये महामारी राजधानी पोर्ट-ओ-प्रिंस और उसके आसपास स्थित विस्थापितों के शिविरों तक नहीं पहुँच पाई है. लेकिन अब इन लोगों तक संक्रमण न पहुँचे इसको लेकर चिंता व्यक्त की जा रही है.

अधिकारियों को आशंका है कि व्यापक चिकित्सा सुविधा उपलब्ध न होने और स्वच्छता के अभाव में ये महामारी घनी आबादी वाले शिविरों को प्रभावित कर सकती है.

सहायता एजेंसियों का कहना है कि विभिन्न स्थानों पर अस्पताल कायम किए जा रहे हैं और पानी को स्वच्छ करने के उपकरण लगाए जा रहे हैं.

बीबीसी संवाददाता का कहना है कि हैजे को फैलने से रोकने के लिए डॉक्टर खुले में लोगों का इलाज कर रहे हैं.

संबंधित समाचार