इराक़ में 10 धमाके, 63 की मौत

इराक़ की राजधानी बग़दाद में कई धमाके हुए हैं. इन धमाकों में कम से कम 63 लोग मारे गए हैं और 200 से अधिक घायल हुए हैं.

माना जा रहा है कि धमाकों में मरने वालों की संख्या और बढ़ सकती है.

इन धमाकों में शिया बहुल इलाक़ों को निशाना बनाया गया है.

अधिकारियों का कहना है कि ये सुनियोजित थे और हाल के महीनों में विद्रोहियों का ये सबसे बड़ा हमला माना जा रहा है.

ज्यादातर धमाके कार बमों से किए गए लेकिन एक सड़क के किनारे रखा बम फटा. इसके अलावा बग़दाद के दक्षिण-पश्चिमी इलाक़े में मोर्टार भी दागा गया.

अधिकारियों का कहना है कि सभी धमाके व्यस्त इलाक़ों में हुए जैसे बम कैफ़े और रेस्तराँ के बाहर रखे गए थे.

बग़दाद से बीबीसी संवाददाता जिम म्यूर का कहना है कि रविवार को मारे गए लोगों का अंतिम संस्कार ख़त्म भी नहीं हुआ था कि ताज़ा धमाके हो गए.

संवाददाता का कहना है कि बग़दाद में लोग शहर की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठाने लगे हैं.

ग़ौरतलब है कि बग़दाद में एक कैथलिक चर्च में बंधकों को छुड़ाने की कोशिश में 52 लोग मारे गए थे.

बंदूकधारियों ने चर्च में प्रार्थना के लिए जमा हुए लोगों को बंधक बना लिया था और जेल में बंद अल क़ायदा चरमपंथियों की रिहाई की मांग की थी.

उन्हें छुड़ाने की सुरक्षाबलों की कार्रवाई के दौरान 52 लोगों की मौत हो गई थी.

संबंधित समाचार