एयरबस ए-380 विमानों की उड़ान पर रोक

क्वांटस विमान

ऑस्ट्रेलियन एयरलाइंस क्वांटस ने अपने सभी एयरबस ए-380 विमानों की उड़ान पर फ़िलहाल रोक लगा दी है. एयरलाइंस ने सिंगापुर में अपने एक विमान की इमरजैंसी लैंडिंग के बाद ये क़दम उठाया है.

ये विमान सिंगापुर से सिडनी जा रहा था और इस विमान में 459 यात्री और चालक दल के सदस्य सवार थे.

लेकिन उड़ान भरने के साथ ही इसके एक इंजन में ख़राबी आ गई. उस समय ये विमान पड़ोसी इंडोनेशनिया के बाटम द्वीप के ऊपर उड़ान भर रहा था.

विमान के चार में से एक इंजन को बंद करना पड़ा और फिर तीन इंजनों के सहारे आपात स्थिति में इस विमान की इमरजैंसी लैंडिंग हुई.

दावा

बाटम द्वीप के लोगों का दावा है कि एक विमान के वहाँ से गुज़रने के क्रम में उन्होंने धमाके की आवाज़ सुनी थी. लोगों को विमान का एक टुकड़ा भी ज़मीन पर गिरा मिला है.

सिडनी स्थित बीबीसी संवाददाता निक ब्रायंट ने कहा है कि विशेषज्ञों ने इस टुकड़े को क्वांटस विमान के इंजन से जुड़ा हुआ कहा है, लेकिन एयरलाइंस ने अभी इस पर कोई टिप्पणी नहीं की है.

कोई व्यक्ति घायल नहीं हुआ. क्वांटस का कहना है कि घटना की पूरी जानकारी मिलने तक वो एयरबस ए-380 की सभी उड़ानें रोक रहा है.

अभी ये पता नहीं चल पाया है कि विमान का एक इंजन ख़राब क्यों हुआ.

चांगी हवाई अड्डे पर मौजूद पत्रकारों का कहना है कि जैसे ही विमान ने आपात स्थिति में सिंगापुर के चांगी हवाई अड्डे पर लैंडिंग की, फ़ायर इंजनों ने इसे घेर लिया.

जंबो विमान एयरबस ए-380 डबल डेकर विमान है, जिस पर अधिकतम 850 लोग सवार हो सकते हैं. ये दुनिया का सबसे बड़ा यात्री विमान है, जिसने वर्ष 2007 में व्यावसायिक उड़ान शुरू की थी.

संबंधित समाचार