सर्दी, बर्फ़बारी से यूरोप बेहाल

पोलैंड में बर्फ़बारी

पूरे उत्तरी यूरोप में लोग भारी बर्फ़बारी और कड़ाके की ठंड का सामना कर रहे हैं. अब तक ठंड या इस मौसम की वजह से हुई दुर्घटनाओं में कम से कम 28 लोग मारे गए हैं.

इस मौसम की वजह से ब्रिटेन, फ़्रांस और जर्मनी में सड़कें जाम हो गई हैं, रेल यात्राएँ रुक गई हैं और हवाई अड्डों को बंद करना पड़ा है. इसके कारण हज़ारों लोग अलग-अलग जगह फँसे हुए हैं.

ब्रिटेन के हीथ्रो, गैटविक, पेरिस, एम्सटर्डम और बर्लिन हवाई अड्डों पर या तो उड़ानें बंद हैं या फिर उड़ानें अस्तव्यस्त हो गई हैं.

इस बीच मौसम वैज्ञानिकों ने सप्ताहांत में और अधिक सर्द मौसम की चेतावनी दी है.

जनजीवन अस्तव्यस्त

Image caption स्वीडन में हवाई अड्डा पिछले तीन दिनों से बंद है

बाल्कन देशों अल्बानिया, बोस्निया, मोंटेनेग्रो और सर्बिया में आई भारी बाढ़ की वजह से एक हज़ार लोगों को अपने घरों को छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर जाना पड़ा है.

पोलैंड में पिछले कुछ दिनों में तापमान शून्य से 33 डिग्री तक नीचे चला गया है. वहाँ बेघरबार या अत्यधिक शराब पीने की वजह से कम से कम 18 लोगों की मौतें हुई हैं.

रूस में तीन और जर्मनी में दो लोगों की मौत की ख़बरें हैं.

जर्मनी में हज़ारों रेल यात्रियों को रेल में ही रात गुज़ारनी पड़ी क्योंकि भारी बर्फ़बारी की वजह से ट्रेनों को रोक देना पड़ा. बर्लिन में भूमिगत रेलवे स्टेशनों और गर्म की गई बसों को रात भर खुला रखा गया.

यूरोप की प्रतिष्ठित ट्रेन यूरोरेल की सेवाओं को रविवार तक के लिए सीमित कर दिया गया है.

संबंधित समाचार