चिली की जेल में आग, 81 लोग मरे

  • 8 दिसंबर 2010
चिली की जेल
Image caption चिली की जेल से अभी भी धुआं निकल रहा है

दक्षिण अमरीकी देश चिली की राजधानी सेंटिएगों की एक जेल में लगी आग में लगभग 81 लोग मारे गए हैं.

अधिकारियों का कहना है कि सैन मिगुएल जेल में ये आग स्थानीय समयानुसार सुबह 5:30 बजे लगी.

टेलीविज़न पर दिखाई जा रही तस्वीरों में जेल की इमारत से अभी भी धुआं निकल रहा है.

स्थानीय मीडिया के अनुसार जेल से सैकड़ो लोगों को निकाला गया है. इनमें से 19 लोगों को बहुत चोट आई है और कुछ गंभीर रुप से जल भी गए हैं.

अपुष्ट ख़बरों के मुताबिक आग का कारण दो गुटों में हुई लड़ाई बताई जा रही है.ये बताया जा रहा है कि इन गुटों के सदस्यों ने गद्दे में आग लगा दी.

चिली के स्वास्थ्य मंत्री जेमी मनालीस का कहना है कि चिली की जेलों के इतिहास में ये हादसा सबसे घातक है.

सेंटिएगों में मौजूद बीबीसी के संवावदाता गिड्यन लांग का कहना है कि आग पर नियंत्रण पाया जा चुका है लेकिन कैदियों के रिश्तेदारों के घटनास्थल पर पहुंचने से अफ़रा-तफ़री मच गई है.

रायटर्स संवाद समिति ने राजकीय जेल व्यवस्था के प्रवक्ता के हवाले से बताया है कि''जो 81 कैदी मरे हैं उनकी पहचान करने की कोशिश की जा रही है.''

बीबीसी संवावदाता का कहना है कि स्थानीय मीडिया के अनुसार जेल में 19,00 कैदी थे लेकिन इस जेल की क्षमता लगभग 900 कैदियों की ही थी.

रिपोर्टों के अनुसार जेल के सुरक्षाकर्मियों ने शुरुआत में अग्निशमन दस्तों को जेल में आने से रोका था.

टेलीविज़न पर दिखाई जा रही तस्वीरों में कुछ कैदी सलाख़ो के पीछे से अपने बचाव के लिए हाथ हिला रहे थे और कैदियों के रिश्तेदार अपने परिजनों की सुरक्षा के लिए चीख़ रहे थे.

इस बीच आग के कारणों की जांच के आदेश दे दिए गए हैं.

संबंधित समाचार