स्वीडन धमाका: ब्रिटेन में तलाशी अभियान

  • 13 दिसंबर 2010
धमाका
Image caption स्वीडन में धमाके को लेकर संशय बरक़रार है

ब्रितानी पुलिस ने स्वीडन में शनिवार को हुए बम धमाकों के सिलसिले में उत्तरी लंदन के एक मकान की तलाशी ली है.

पुलिस ने स्पष्ट किया है कि इस सिलसिले में कोई गिरफ़्तारी नहीं की गई है और न ही कोई आपत्तिजनक सामग्री बरामद हुई है.

स्वीडन में व्यस्त इलाक़े में शनिवार को दो धमाके हुए थे और संदेह व्यक्त किया जा रहा है कि इनके लिए ज़िम्मेदार व्यक्ति इसमें मारा गया था.

एक इस्लामी वेबसाइट ने इस शख्स की इराक़ी मूल के व्यक्ति के रूप में पहचान की है जिसने इंग्लैंड में पढ़ाई की थी.

धमाकों से ठीक पहले स्वीडन की समाचार एजेंसी, टीटी और सुरक्षा एजेंसियों को एक ईमेल मिला था जिसमें स्वीडन के अफ़ग़ानिस्तान में सेनाएँ भेजने के कारण धमकी दी गई थी.

स्वीडन के प्रधानमंत्री फ़्रेडरिक रीनफेल्ट ने इन हमलों की भर्त्सना की है और कहा है कि मुक्त और लोकतांत्रिक समाज में ये स्वीकार्य नहीं है.

धमाके

उल्लेखनीय है कि शनिवार को स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में एक कार में धमाके के बाद लगी आग के बाद एक शख्स मृत पाया गया था.

पुलिस का कहना है कि इस धमाके में दो लोग घायल भी हुए हैं.

स्वीडन के विदेश मंत्री कार्ल बिल्ट ने ट्विटर पर अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि ये एक विफल चरमपंथी हमला था.

स्वीडन की सुरक्षा एजेंसी ने कहा था कि वो मामले की जाँच एक आतंकवादी हमले के तौर पर कर रही है.

एक प्रवक्ता ने मामले को गंभीर क़रार दिया लेकिन इस विषय में और ज़्यादा जानकारी नहीं दी. प्रवक्ता ने कहा कि अभी मामले की जाँच जारी है.

अफ़ग़ानिस्तान में अमरीकी नेतृत्ववाली गठबंधन सेनाओं में स्वीडन के लगभग 400 सैनिक तैनात हैं.

संबंधित समाचार