अमरीका में भारी बर्फ़बारी और तूफ़ान

  • 27 दिसंबर 2010
Image caption अमरीका में भारी बर्फ़बारी हो रही है

अमरीका में भारी बर्फ़बारी हो रही है और वाशिंगटन समेत पूरे पूर्वी तटीय इलाक़े में बर्फ़ीला तूफ़ान आने की आशंका व्यक्त की जा रही है.

अमरीका के राष्ट्रीय मौसम सेवा ने अगले 24 घंटों में भारी हिमपात और तूफ़ान की चेतावनी जारी कर दी है.

मौसम वैज्ञानिकों का अनुमान है कि न्यूयार्क और बॉस्टन जैसे प्रमुख शहरों में 40 से 50 सेंटीमीटर तक बर्फ़ गिर सकती है और 56 किलोमीटर प्रति घंटा से भी ज्यादा रफ़्तार से हवाएँ चल सकती हैं.

मौसम के इस बदलाव का असर उड़ानों की आवाजाही पर भी पड़ सकता है और सैकड़ों उड़ानों का आवागमन रोकना पड़ा.

न्यूयार्क के जेएफके, नेवार्क, वाशिंगटन डीसी और बॉस्टन के लोगान अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सैकड़ों उड़ानों के संचालन में बाधा आई.

यात्रियों से अपील की जा रही है कि वो घर से एयरपोर्ट के लिए निकलने से पहले एयरलाइंस से हालात की जानकारी ले लें.

अमरीका के दूसरे इलाक़ों में भी भारी बर्फ़बारी के कारण मेरीलैंड, उत्तरी कैरोलाइना और वर्जीनिया मे आपातकाल की घोषणा कर दी गई है.

वाहन चालकों से आग्रह किया जा रहा है कि वो सड़कों पर गाड़ी चलाते समय ज्यादा एहतियात बरतें. लेकिन अमरीका में ही एटलांटा के निवासियों ने बर्फ का स्वागत किया है.

वहां 1882 के बाद पहली बार भारी बर्फ़बारी के बीच क्रिसमस मनाया गया.

इसके पहले यूरोप में लोग भारी बर्फ़बारी हुई थी. इस मौसम की वजह से ब्रिटेन, फ़्रांस और जर्मनी में सड़कें जाम हो गईं, रेल सेवाएँ रुक गईं और हवाई अड्डों को बंद करना पड़ा.

ब्रिटेन के हीथ्रो, गैटविक, पेरिस, एम्सटर्डम और बर्लिन हवाई अड्डों पर या तो उड़ानें बंद करनी पड़ीं या फिर उड़ानें अस्तव्यस्त हो गईं थीं.

संबंधित समाचार