सबसे शोरगुल वाला शहर

  • 29 दिसंबर 2010
ट्रैफिक
Image caption बड़े शहरों में ट्रैफिक जाम आम बात हो गई है.

लैटिन अमरीका में किए गए एक अध्ययन के अनुसार न्यूयॉर्क दुनिया भर में सबसे अधिक शोर वाला शहर है जबकि अर्जेंटीना की राजधानी ब्यूनोस आयर्स लैटिन अमरीका क्षेत्र का सबसे शोरगुल वाला शहर है.

यह शोध पूर्व में विश्व स्वास्थ्य संगठन के उन सर्वेक्षणों की पुष्टि करता है जिसके अनुसार दुनिया का सबसे अधिक शोरगुल वाला शहर न्यूयॉर्क है जिसके बाद जापान के दो शहर टोक्यो और नागासाकी हैं.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार भी ब्यूनोस आयर्स दुनिया का चौथा सबसे शोरगुल वाला शहर है.

लातिन अमरीका में किए गए इस अध्ययन में ब्यूनोस आयर्स में इस शोरगुल के कई कारण दिए गए हैं.

अध्ययन में कहा गया है कि अर्जेंटीना की आबादी का एक तिहाई हिस्सा यानी करीब चार करोड़ लोग ब्यूनोस आयर्स के आसपास रहते हैं. इनके लिए रहने की जगह बहुत कम है और बड़ी संख्या में लोग ऊंची ऊंची इमारतों में निवास करते हैं.

दोनों तरफ ऊंची इमारतों और बीच में सड़कें होने के कारण आवाज़ बहुत अधिक होती है.

अर्जेंटीना की बेहतर होती अर्थव्यवस्था के कारण राजधानी में कारों की संख्या में ज़बर्दस्त बढ़ोतरी हुई है और निर्माण कार्य भी बढ़ा है.

इसके अलावा शहर में बड़ी संख्या में बसें भी हैं जिन पर सरकार का नियंत्रण बहुत अधिक नहीं है. इनके इंजन पुराने हैं और ये बहुत आवाज़ करती हैं.

ब्यूनोस आयर्स में ट्रेनें शहर के बीचोबीच चलती हैं और लोग ट्रैफिक जाम में फंसने के बाद हॉर्न बहुत बजाते हैं.

ब्यूनोस आयर्स का मौसम गर्म और आर्द्रता भरा होता है जिसके कारण लोग हमेशा खिड़कियां खोल कर रखते हैं और साथ ही एयरकंडीशनर का इस्तेमाल भी बहुत होता है.

इतना ही नहीं ब्यूनोस आयर्स में लोग दिन में काम करते हैं तो रात में मौज भी खूब करते हैं जहां रात में तेज़ संगीत बजता है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि दिन में आवाज़ का स्तर 55 डेसीबल से अधिक नहीं होना चाहिए और रात में 45 डेसीबल से अधिक नहीं.

लेकिन ब्यूनोस आयर्स में ये स्तर 70 और 80 डेसीबल तक रहता है जिसका अर्थ है कि ये कानों के लिए बेहद ख़तरनाक होता है.

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है