एक हज़ार डॉलर देनी होगी वीज़ा फीस

  • 29 दिसंबर 2010
फ़ाइल फ़ोटो
Image caption संयुक्त अरब अमीरात ने कनाडा के नागरिकों के लिए वीज़ा फीस में भारी बढ़ोत्तरी कर दी है

कनाडा और संयुक्त अरब अमीरात के बीच विमानों को उतारने के अधिकार पर चल रहे विवाद का ख़ामियाजा लोगों को भुगतना पड़ेगा.

विवाद के बाद संयुक्त अरब अमीरात ने कनाडा के नागरिकों के लिए वीज़ा फीस में भारी बढ़ोत्तरी कर दी है और अब कनाडाई नागरिकों को यूएई जाने पर एक हज़ार डॉलर वीज़ा फीस अदा करनी होगी.

ये फीस नए साल से ही लागू हो जाएगी.

दरअसल दोनों देशों के बीच विमानों को उतारने के अधिकार पर ठनी हुई है.

इसके पहले दोनों देशों की एयरलाइंस को उतारने के अधिकार को लेकर राजनयिक बहस चली थी.

इस संबंध में संयुक्त अरब अमीरात ने कनाडा को अक्तूबर में नोटिस दे दिया था.

जवाब में कनाडा की सरकार ने यूएई की दो एयरलाइंस- एमीरेट्स और इत्तिहाद के विमानों को अपने हवाई अड्डों पर उतरने की अनुमति से इनकार कर दिया था.

इस वज़ह से अब इन दोनों एयरलाइंस की एक हफ़्ते में केवल छह उड़ानें ही चल रही हैं.

हालांकि कनाडा के रक्षा मंत्री पीटर मैक्कै ने कनाडा के मध्यपूर्व में अपने सबसे बड़े कारोबारी साझेदार से बिगड़ते संबंधों पर चिंता ज़ाहिर की है. विपक्षी दलों ने भी सरकार को आड़े हाथों लिया है.

दोनों देश एक साल में लगभग 1.5 अरब डॉलर का कारोबार करते हैं.

इस नए नियम से संयुक्त अरब अमीरात में रहने वाले 25 हज़ार कनाडाई प्रभावित होंगे.

संबंधित समाचार