तासीर के हत्यारे असली ईश-निंदक: बिलावल

पाकिस्तान की पूर्व प्रधानमंत्री बेनज़ीर भुट्टो के बेटे बिलावल भुट्टो ने उन लोगों की कड़े शब्दों में निंदा की है जो पंजाब के गवर्नर सलमान तासीर के हत्यारों की प्रशंसा कर रहे हैं.

सलमान तासीर की पिछले हफ़्ते उनके ही सुरक्षागार्ड ने इस्लामाबाद में हत्या कर दी थी. माना जा रहा है कि उनकी हत्या इसलिए की गई क्योंकि वे पाकिस्तान में ईश-निंदा क़ानून में प्रस्तावित बदलावों का समर्थन करते थे.

बिलावल भुट्टो ने लंदन में कहा कि सलमान तासीर के हत्यारे का समर्थन वाले सबसे बड़े ‘ईश-निंदक’ हैं.ये बातें उन्होंने लंदन में पाकिस्तानी उच्चायोग में हुई शोक सभा के दौरान कही.

उन्होंने कहा,“ हमारे धर्म के लिए मेरी माँ ने शहादत दे दी. हमारे धर्म को बदनाम करने वालों के ख़िलाफ़ जिहाद में वे शहीद हो गईं. वो शांतिपूर्ण जिहाद था. इस साल सलमान तासीर की हत्या कर दी गई क्योंकि उन्होंने ने भी अपनी आवाज़ दबाने से इनकार कर दिया था. वे भी हमारे धर्म को बचाना चाहते थे.”

बिलावल का कहना था कि सलमान तासीर की हत्या करने वालों के ख़िलाफ़ वे शांतिपूर्ण तरीके से अभियान चलाएँगे.

उनका कहना था,“ये हमारा जिहाद होगा- उनके ख़िलाफ़ जो हिंसा, आत्मघाती हमलों और हत्या को जायज़ ठहराने के लिए धर्म का इस्तेमाल करते हैं. ऐसे लोग सोचते हैं कि उनके काम उन्हें जन्नत तक ले जाएँगे जो ग़लत धारणा है. अल्लाह ऐसे लोगों को जहान्नुम देता है और हम उन्हें वहीं भेजेंगे.”

पोप के बयान पर विवाद

वहीं पोप के इस बयान की इस्लामिक गुटों ने तीखी आलोचना की है जिसमें पोप ने कहा था कि ईश-निंदा क़ानून को ख़त्म कर देना चाहिए.

एएफ़पी के मुताबिक जमात-ए-इस्लामी के नेता लियाक़त बलोच ने कहा है, “पोप का बयान सभ्यताओं के बीच संघर्ष को खुला बुलावा है जो पूरी दुनिया को घातक युद्ध की ओर ले जाएगा. इस मुद्दे पर कराची में हुआ प्रदर्शन इस क़ानून का विरोध करने वालों के लिए चेतावनी की तरह होना चाहिए.”

बलोच ने कहा कि पाकिस्तान इस बात की अनुमति नहीं देगा कि ईश-निंदा क़ानून के साथ छेड़छाड़ की जाए.

पोप बेनेडिक्ट ने विशेष रूप से पाकिस्तान के नेताओं से आग्रह किया कि वो ईशनिंदा क़ानून को समाप्त करें ‘जिसे धार्मिक अल्पसंख्यकों के ख़िलाफ़ अन्यायपूर्ण और हिंसात्मक कृत्यों के लिए प्रयोग किया जाता है.’

कुछ महीने पहले पाकिस्तान में ईसाई महिला आसिया बीबी को कथित तौर पर पैगंबर मोहम्मद का अपमान करने पर मौत की सज़ा सुनाई गई थी. उसी के बाद से ईश-निंदा क़ानून का मामला काफ़ी सुर्ख़ियों में रहा है.

सलमान तासीर ने जेल में आसिया बीबी से मुलाक़ात की थी और का़नून में बदलाव की हिमायत की थी. उनके कथित हत्यारे ने कहा है कि वे सलमान तासीर के इसी रवैये से नाराज़ था.

संबंधित समाचार