ब्राज़ील और ऑस्ट्रेलिया में बाढ़ से तबाही

  • 13 जनवरी 2011
Image caption ब्राज़ील में बाढ़ और भूस्खलन से भारी तबाही हुई है

ब्राज़ील के दक्षिण-पूर्वी इलाक़े में अचानक आई बाढ़ और भूस्खलन के कारण पिछले चौबीस घंटों में कम से कम 230 लोगों की मौत हो गई है.

रियो डि जिनेरो से क़रीब 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित टेरेसोपोलिस शहर में जानमाल का सबसे ज्यादा नुक़सान हुआ है और लगभग 100 लोगों की मौत हुई है.

जबकि नोवा फ्रिबुर्गो नामक शहर का देश के दूसरे हिस्सों से संपर्क कट गया है.

शहर में हर तरफ नदियों का पानी और भूस्खलन में बही मिट्टी बह रही है.

देश के पर्यावरण मंत्री के मुताबिक़ मरने वालों की संख्या और बढ़ सकती है क्योंकि राहत और बचाव कर्मियों को हताहतों तक पहुँचने में खासी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है

ऑस्ट्रेलिया में बाढ़ से तबाही

इधर ऑस्ट्रेलिया के तीसरे सबसे बड़े शहर ब्रिस्बेन में भी इस दशक की सबसे गंभीर बाढ़ आई है.

बाढ़ ने चारों तरफ तबाही मचाई है, घरों में पानी भरा हुआ है और फर्नीचर और यहाँ तक कारें भी सड़कों पर बहती दिखाई दे रही हैं.

Image caption ऑस्ट्रेलिया में भी अचानक आई बाढ़ ने कहर बरपाया है

हालांकि पुलिस का कहना है कि पानी आशंका से कम स्तर तक बढ़ा है. पहले आशंका व्यक्त की गई की जलस्तर पाँच मीटर से ऊपर तक बढ़ेगा लेकिन ये 4.6 मीटर तक ही बढ़ा है.

बिजली की सप्लाई बंद पड़ी है ताकि पानी भरने की सूरत में जेनरेटरों में आग न लग जाए. हज़ारों लोगों से कहा है कि वे या घर पर ही रहें या इलाक़ा छोड़ दें.

अब तक क्वींसलैंड प्रांत में आई बाढ़ से 17 लोगों की मौत हो चुकी है.

क्वींसलैंड में आई बाढ़ से अरबों डॉलर का नुकसान हुआ है और दो लाख लोग प्रभावित हुए हैं.

प्रधानमंत्री जूलिया गिलार्ड ने आगाह किया है कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है.

आशंका जताई जा रही है कि कई इलाक़ों में और बारिश होगी और न्यू साउथ वेल्स में भी बाढ़ आने की ख़बरें हैं.

संबंधित समाचार