बर्लुस्कोनी पर मामला चल सकेगा

बर्लुस्कोनी
Image caption बर्लुस्कोनी पर भ्रष्टाचार और कर चोरी के आरोप हैं

इटली की संवैधानिक अदालत ने प्रधानमंत्री सिल्वियो बर्लुस्कोनी को क़ानूनी मामलों के ख़िलाफ़ मिला अस्थाई संरक्षण हटा लिया है.

इसी के साथ बर्लुस्कोनी के ख़िलाफ़ रूके पड़े दो मुक़दमों को आगे बढ़ाने का रास्ता साफ़ हो गया है.

उल्लेखनीय है कि मार्च 2010 में पारित किए गए एक क़ानून के तहत प्रधानमंत्री और उनके मंत्रिमंडलीय सहयोगियों के ख़िलाफ़ मुक़दमे नहीं चलाए जा सकते हैं.

अब संवैधानिक अदालत ने फ़ैसला सुनाया है कि जज विशेष ये तय कर सकेंगे कि किसी मामले में प्रधानमंत्री पद पर रहते बर्लुस्कोनी पर मुक़दमा चलाया जाए कि नहीं.

उल्लेखनीय है कि बुधवार को बर्लुस्कोनी ने संवैधानिक अदालत में हो रही सुनवाई को हास्यास्पद करार दिया था.

दो गंभीर मामले

बर्लुस्कोनी के ख़िलाफ़ लंबित दो मामले भ्रष्टाचार और जालसाज़ी के हैं.

उन पर आरोप है कि 1997 के एक मामले में उन्होंने अपने ब्रितानी वक़ील को झूठ बोलने के लिए पैसे दिए थे.

बर्लुस्कोनी पर जालसाज़ी का मामला उनकी कंपनी मीडियासेट से संबद्ध है. आरोप है कि बर्लुस्कोनी ने ग़लत बहीखाते दिखा कर अपनी टेलीविज़न कंपनी को प्रसारण अधिकार दिलाए, और इस तरह बड़ी मात्रा में कर चोरी की.

अपने बचाव में बर्लुस्कोनी बार-बार कहते रहे हैं कि वामपंथी विचारधारा वाले सरकारी अभियोजक उनके पीछे पड़े हैं.

संबंधित समाचार