ब्राज़ील में बाढ़ से 400 की मौत

  • 14 जनवरी 2011
ब्राज़ील बाढ़

ब्राज़ील के दक्षिण-पूर्वी इलाक़े में अचानक आई बाढ़ और भूस्खलन में मरने वाले की संख्या 400 तक पहुँच गई है.

ब्राज़ील की राष्ट्रपति डिलमा रूसेफ़ ने प्रभावित इलाक़ों का हवाई सर्वेक्षण किया है.

ब्राज़ील का पर्वतीय शहर नोवा फ्रिबर्गो सबसे बुरी तरह प्रभावित हुआ है, यहाँ लगभग 150 लोगों की मौत हुई है.

आपात सेवा कर्मी अभी तक सभी प्रभावित इलाक़ों में नहीं पहुँच पाए हैं. उन्हें नदियों के कटान और मिट्टी के कारण पहुँचने में परेशानी पेश आ रही है.

साथ ही भारी बारिश ने और परेशानी बढ़ा दी है जिसकी वजह से राहत और बचाव में मुश्किलें आ रही हैं.

हाल के वर्षों में ब्राज़ील में कई बाढ़ों को झेला है जिसमें हज़ारों लोग प्रभावित हुए है.

श्रीलंका में बाढ़

इधर श्रीलंका के भी कुछ इलाक़ों में बाढ़ आई हुई है.

Image caption श्रीलंका के भी कुछ इलाक़ों में बाढ़ आई हुई है

संयुक्त राष्ट्र राहत कर्मियों ने कहा है कि बारिश बंद हो गई है लेकिन बट्टीकलोआ और कलमुआई के इलाक़े सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं.

संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि साढे तीन लाख लोग विस्थापित हुए हैं और वो अब भी अलग थलग पड़े हुए है और उन तक कोई सहायता नहीं पहुँची है.

जल्दबाजी में अनेक शिविर स्थापित किए गए हैं लेकिन उनमें खाने,पानी और दवाओं की कमी है.

संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि एक समस्या और पेश आ रही है कि रात में तापमान गिर रहा है जिसके कारण हमें और कंबलों की ज़रूरत है.

श्रीलंका की बाढ़ में अब तक 18 लोगों की मौत हो चुकी है.

पिछले दो हफ्तों से देश के तटीय और पूर्वी इलाक़ों में ज़बर्दस्त बारिश हुई है. कई नदियों के तटबंध टूट चुके हैं और धान उत्पादक इलाक़ों में फसल बर्बाद हो गई है.

बाढ़ के कारण विस्थापित लोग क़रीब 800 शिविरों में रह रहे हैं और ये शिविर स्कूलों के परिसरों में बने हैं जिनके चारों तरफ पानी भर गया है.

वायु सेना ने कई स्थानों पर लोगों को बचाने में मदद की है और खाद्य पदार्थ गिराए हैं.

संबंधित समाचार