अर्जेंटीना के किसान हड़ताल पर

  • 18 जनवरी 2011
अर्जेंटीना के किसान
Image caption किसान सरकार के खाद्यान्न निर्यात पर रोक से नाराज़ है.

अर्जेंटीना के किसान सात दिन की हड़ताल पर हैं और इस दौरान वे अपने खाद्यान्न की बिक्री नहीं करेंगे.

किसान, सरकार के खाद्यान्न निर्यात पर प्रतिबंध लगाए जाने के फ़ैसले का विरोध कर रहे हैं.

किसानों का कहना है कि वे दुनियाभर में बढ़ रही खाद्यान्न क़ीमतों का फायदा नहीं उठा पा रहे हैं क्योंकि सरकार ने निर्यात का कोटा तय कर दिया और घरेलू क़ीमतों को भी कृत्रिम रुप से कम किया हुआ है.

अर्जेंटीना खाद्यान्न का निर्यात करने वाले देशों में काफ़ी आगे है और तीन साल पहले जब ऐसे ही विरोध हुए थे तो विश्वभर में खाद्यानों की क़ीमते रिकॉर्ड स्तर पर पहुँच गई थी.

पर ये हड़ताल प्रतीकात्मक है क्योंकि इस साल की फ़सल की कटाई अभी शुरु नहीं हुई है.

किसानों का कहना है कि वो अगर अपना खाद्यान्न सात दिनों तक नहीं बेचते तो यहाँ के शहरों में खाद्यान्न की कोई कमी नहीं होगी.

उनका तर्क है कि मिलों को कई दिन पहले ही चेतावनी दे दी गई थी और उन्होंने माल इकट्ठा कर लिया होगा.

खाद्य पदार्थों की क़ीमतों पर चिंता

गेहूं, मक्का और सोया के निर्यात पर इसका कोई असर नहीं होगा.

पर विश्लेषक कहते है कि अर्जेंटीना में वैसे भी गर्म और सूखे हालात हैं और उसपर तेल की बढ़ती क़ीमतें, ये सब विश्व खाद्यान्न क़ीमतों में वृद्धि करेंगी.

अर्जेंटीना के कृषि मंत्री जूलियन डौमिंगेज़ ने इस हड़ताल की आलोचना की है पर ये बात स्वीकार की “खाद्यान्न का उत्पादन करने वाले किसानों को जितना कमाना चाहिए, वो नहीं कमा रहे.’’

राष्ट्रपति क्रिस्टीना फ़र्नान्डेस की सरकार की कृषि नीति और किसानो के बीच लंबे समय से विवाद रहा है.

सरकार का कहना है कि निर्यात कोटा मुद्रास्फीति को नियंत्रण में रखता है और घरेलू खाद्यान्न सप्लाई बनाए रखता है.

पर कृषि यूनियनों का कहना कि ये सारे क़दम अंतरराष्ट्रीय खाद्यान्न कारोबारियों की मदद करते हैं और अर्जेंटीना दुनियाभर में बाज़ार की हिस्सेदारी खो रहा है.

अर्जेंटीना के कृषि परिषद के एडुआर्डो बज़्ज़ी का कहना है, “हमें खाद्यान्न व्यापार को, खासकर गेहूँ और मक्की के व्यापार को बेहतर बनाना है. किसान पैसा बनाने से रह जाते हैं और आम आदमी अपनी रोटी के लिए ज़्यादा देने के लिए मजबूर हो जाते हैं.’’

अब सबकी नज़र किसानों पर है.

संबंधित समाचार