हमास उगाएगा खजूर

गज़ा पट्टी
Image caption हमास की फल उगाने की कोशिश

गज़ा पट्टी में फलों के 20 लाख पौधे लगाए जाएंगे. और ये पौधे और कोई नही गज़ा में शासन कर रही हमास की सरकार लगाएगी.

ये पौधे अगले दस सालो में लगाए जाएंगे. ये मुहिम इसलिए चलाई जाएगी ताकि हमास के नियंत्रण वाली ये छोटी सी फ़लस्तीनी भूमि इसराइल पर अपनी खाद्य निर्भरता कम कर पाएं.

इसराइल हमास को एक आतंकवादी संगठन मानता है और अभी भी गज़ा में सामानों के लाने और ले जाने पर प्रतिबंध लगा हुआ है.

इस वजह से गज़ा में सामानों की कमी रहती है और लोगों को कई बार आम ज़रूरत की चीजें भी मुश्किल से मिल पाती हैं.

हमास के कृषि मंत्री डॉ मोहम्मद आग़ा का कहना है कि अगले दस सालों में खजूर और जैतून के पौधे लगाए जाएंगे.

आग़ा ने कहा, “हमारे यहाँ एक कहावत है -- वे (हमारे पूर्वज) उगाते हैं और हम उसका फल खाते हैं, अब हम उगाएंगे और हमारी औलादें खाएंगी.’’

ये बागान उन जगहों पर विकसित किए जाएंगे जहाँ पहले इसराइली बस्तियां थी. इनमें कई ऐसे ग्रीन हाउस भी है जो इसराइली छोड़ गए थे.

हमास का कहना है कि वो इसराइल पर अपनी खाद्य निर्भरता कम करना चाहता है.

साथ ही गज़ा पट्टी में हमास मछली पैदा करने का काम भी कर रहा है.

संबंधित समाचार