रेमंड की रिहाई चाहते हैं ओबामा

  • 16 फरवरी 2011
रेमंड डेविस इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption रेमंड डेविस अभी पाकिस्तान की जेल में हैं

पाकिस्तान में अमरीकी दूतावास अधिकारी रेमंड डेविस के मामले पर दोनों देशों में विवाद बढ़ता नज़र आ रहा है. रेमंड डेविस पर दो पाकिस्तानी नागरिकों की हत्या का आरोप है और वे इस समय जेल में है.

लेकिन अमरीका का तर्क है कि रेमंड डेविस को राजनयिक संरक्षण हासिल है और पाकिस्तान को उन्हें तुरंत रिहा करना चाहिए.

अब पहली बार अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी इस मामले पर अपनी चुप्पी तोड़ी है. ओबामा का कहना है कि राजनयिक संरक्षण का सीधा मतलब ये है कि 36 वर्षीय रेमंड डेविस को रिहा किया जाना चाहिए.

वॉशिंगटन में एक न्यूज़ कॉन्फ़्रेंस के दौरान ओबामा ने कहा, "अगर दुनियाभर में हमारे राजदूतों के साथ न्यायपूर्ण होने की बात आ गई, तो इसका समर्थन नहीं किया जा सकता. क्योंकि इनमें कई ख़तरनाक जगह हैं और वहाँ की सरकारों के साथ हमारे मतभेद हैं. अगर ऐसा हुआ तो इसका मतलब ये है कि वे अपना काम नहीं कर सकते. इसी कारण हम ऐसे समझौतों का समर्थन करते हैं और सभी देशों को भी ऐसा करना चाहिए."

कोशिश

अमरीकी राष्ट्रपति ने कहा कि वे पाकिस्तान सरकार के साथ मिलकर रेमंड डेविस को रिहा करने की कोशिश जारी रखेंगे.

रेमंड डेविस का मामला पाकिस्तान और अमरीका के बीच विवाद की वजह बन गया है. पाकिस्तान में लोग रेमंड डेविस को मौत की सज़ा देने की मांग कर रहे हैं और इसके लिए जगह-जगह प्रदर्शन भी हो रहे हैं.

तालिबान ने धमकी दी है कि अगर डेविस को रिहा किया गया, तो इस प्रक्रिया में शामिल पाकिस्तानी अधिकारियों पर हमले किए जाएँगे.

राष्ट्रपति ओबामा ने चेतावनी दी है कि रेमंड डेविस को हिरासत में रखने से दोनों देशों के रिश्ते तनावपूर्ण होंगे. उन्होंने कहा कि किसी राजनयिक के ख़िलाफ़ स्थानीय स्तर पर मुक़दमे से अमरीकी कूटनीति पर भी ख़तरा पैदा होगा.

इस बीच राष्ट्रपति ओबामा ने सीनेटर जॉन केरी को पाकिस्तान भेजा है ताकि पाकिस्तान के साथ चल रहे मतभेद को सुलझाया जा सके. जॉन केरी सीनेट की विदेशी मामलों की समिते के प्रमुख हैं.

मंगलवार को लाहौर पहुँचने के बाद केरी ने दो पाकिस्तानी नागरिकों की मौत पर खेद व्यक्त किया लेकिन स्पष्ट किया कि रेमंड डेविस को राजनयिक संरक्षण हासिल है और उन्हें रिहा किया जाना चाहिए.

केरी ने कहा, "मैं यहाँ उन घटनाओं पर अफ़सोस व्यक्त करने आया हूँ, जिनमें दो पाकिस्तानी नागरिकों की मौत हो गई. मैं इन लोगों की मौत पर अमरीकी नागरिकों की ओर से खेद जताने आया हूँ. मैं किसी को निर्देश देने नहीं आया हूँ. मैं यहाँ सुनने आया हूँ."

आरोप है कि 27 जनवरी को रेमंड डेविस ने दो पाकिस्तानी नागरिकों की गोली मार कर हत्या कर दी. रेमंड डेविस का कहना है कि उन्होंने आत्मरक्षा में गोलियाँ चलाई थी.

संबंधित समाचार