क्लास में सेक्स का लाइव प्रदर्शन

  • 5 मार्च 2011
Image caption मानव कामुकता विषय पर हुई क्लास के बाद हुआ था सेक्स प्रदर्शन

अमरीका में शिकागों की नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी के अध्यक्ष ने कहा है कि क्लास में सेक्स खिलौने का छात्रों के सामने इस्तेमाल कर प्रदर्शन करने की घटना से वो विक्षुब्ध हैं.

पिछले महीने एक वस्त्रहीन महिला ने क्लास में सेक्स खिलौने का इस्तेमाल कर छात्रों के सामने प्रदर्शन किया था. यूनिवर्सिटी के अध्यक्ष मॉरटन स्केप्रियो ने कहा कि इसकी अनुमति देने का फ़ैसला ग़लत था.

मानव कामुकता विषय पर हुई क्लास के बाद हुए इस प्रदर्शन को लगभग 100 छात्रों ने देखा. वैसे इस कक्षा में उपस्थिति अनिवार्य नहीं थी और छात्रों को बता दिया गया था कि क्लास में क्या होने वाला है.

अगले दिन एक बयान जारी कर कहा गया कि 21 फरवरी को प्रोफेसर माइकल बेली ने मानव कामुकता पर एक व्याख्यान दिया था जिसमें महिला मनोविज्ञान के कई मुद्दों पर विशेष चर्चा की गई थी.

प्रोफेसर माइकल बेली ने कहा कि एक अन्य मेहमान लेक्चरर केन मेलवॉईन बर्ग ने इस तरह के प्रदर्शन का सुझाव रखा था.

उनका कहना था कि वो इस सुझाव को नकारने के लिए कोई वैध तर्क नहीं दे पाए कि क्यों छात्रों को ये नहीं दिखाया जाना चाहिए.

प्रोफेसर बेली ने कहा, “ इस प्रदर्शन के बाद अधिकतर छात्रों की प्रतिक्रिया सकारात्मक थी.”

सेक्स खिलौने का इस्तेमाल कर छात्रों के सामने प्रदर्शन करने करने वाली महिला फ़ेथ क्रोल ने शिकागो ट्रिब्यून अख़बार को बताया, "इlने लोग मुझे ध्यान से देख रहे थे और मुझे उनका ध्यान पाकर अच्छा लगा."

उनका कहना था, “ मैं एक नुमाईशकर्ता हूँ और मै इस तरह का प्रदर्शन कर खुश हूँ”

गुरुवार को नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी के अध्यक्ष मॉरटन स्केप्रियो ने बयान जारी कर कहा कि विवादास्पद मुद्दों को पढ़ाना और उसपर शोध करना यूनिवर्सिटी की रीति है.

लेकिन इस बयान में ये भी कहा गया कि, “ये फ़ैसला हमारे विश्वविद्यालय के शिक्षकों के बेहद ग़लत फ़ैसले का नमूना है. और मैं इससे आहत और हताश हूँ.”

मॉरटन स्केप्रियो ने कहा “ मुझे नहीं लगता कि ये सब नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी के पढ़ाई मिशन के हिसाब से उचित था.”

उन्होने इस मामले में जाँच करवाने का भरोसा दिलाया.

संबंधित समाचार