आइवरी कोस्ट में भीषण लड़ाई जारी

आइवरी कोस्ट इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption आबिदजान में भीषण लड़ाई जारी है.

अफ़्रीक़ी देश आइवरी कोस्ट में राष्ट्रपति लॉरेंट बाग्बो के समर्थकों और अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त राष्ट्रपति अलासान ओतारा के वफ़ादार सैनिकों के बीच भीषण लड़ाई जारी है. लड़ाई का मुख्य केंद्र आइवरी कोस्ट का सबसे प्रमुख शहर आबिदजान हैं. आबिदजान की सभी महत्वपूर्ण इमारतों के ईर्द गिर्द लड़ाई चल रही है.

ऐसा लगता है कि आइवरी कोस्ट पर कब्ज़ा के लिए लड़ी जा रही लड़ाई अब निर्णायक स्थिति में पहुंच गई है.

पिछले कुछ दिनों में ओतारा के समर्थकों ने देश के ज़्यादातर हिस्से पर क़ब्ज़ा कर लिया है. अब वो आबिदजान के अंदर भी घुसने में सफल हो गए हैं.

आबिदजान में राष्ट्रीय टेलिविज़न के मुख्यालय पर क़ब्ज़े के लिए भीषण लड़ाई चल रही है. अभी इस पर राष्ट्रपति बाग्बो के समर्थकों का क़ब्ज़ा है लेकिन ओतारा के वफ़ादार सैनिक इसको कड़ी चुनौती दे रहे हैं.

इस बीच शहर के कई इलाकों से लुट पाट की भी ख़बरें मिल रही हैं.

ऐसी भी ख़बरें हैं कि लॉरेंट बाग्बो के कई समर्थक उनका साथ छोड़ रहे हैं और पाला बदलकर ओतारा के साथ मिल रहे हैं.

'खेल ख़त्म'

बीबीसी संवाददाता वैलेरी बोनी के अनुसार एक विश्वसनीय सुत्र ने उन्हें बताया है कि मिलिट्री पुलिस के प्रमुख एडुवर्ड कसाराटे ने बाग्बो का साथ छोड़ दिया है और आबिदजान स्थित ओतारा के मुख्यालय चले गए हैं.

ओतारा फ़िलहाल आबिदजान के एक होटल डी गोल्फ़ को अपना मुख्यालय बनाए हुए हैं.

बाग्बो के सेना प्रमुख फ़िलिप मान्गो पहले ही उनका साथ छोड़ चुके हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption बाग्बो के सेना प्रमुख फ़िलिप मान्गो पहले ही उनका साथ छोड़ चुके हैं.

आबिदजान में संयुक्त राष्ट्र प्रतिनिधि ने फ़्रांस रेडियो से बातचीत के दौरान कहा कि होटल का घेराव ख़त्म हो गया है क्योंकि बाग्बो के समर्थक वहां से भाग गए हैं.

अलासान ओतारा के अधिकारियों ने वृहस्पति रात से आबिदजान शहर में रात का कर्फ़्यू लगा दिया है जो कि रविवार तक जारी रहेगा और अगले आदेश तक थल, जल और हवाई सीमा को सील कर दिया गया है.

ओतारा की समानांतर सरकार के प्रमुख गुलौम सोरो ने कहा है कि बाग्बो के पास अब कुछ ही घंटे रह गए हैं. राजधानी यामोसुकरो में समाचार एजेंसी रॉयटर्स से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि बाग्बो के लिए खेल ख़त्म हो गया है. उनका अंत आ गया है.

संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि मौजूदा राष्ट्रपति लॉरेंट बाग्बो पिछले साल हुए राष्ट्रपति में अपने प्रमुख विपक्षी अलासान ओतारा के हाथों हार गए थे लेकिन उन्होंने सत्ता छोड़ने से इनकार कर दिया था.

संयुक्त राष्ट्र की निगरानी में पिछले साल नवंबर में हुए चुनाव में अलासान ओतारा को जीत हासिल हुई थी लेकिन लॉरेंट बाग्बो ने ये कहते हुए कुर्सी छोड़ने से इनकार कर दिया था कि देश की संविधान काउंसिल ने अलासान ओतारा की जीत को नकार दिया था.

उसके बाद दोनों नेता के समर्थकों के बीच लड़ाई शुरु हो गई जो अब तक जारी है. इस दौरान एक लाख से ज़्यादा लोग हिंसा से बचने के लिए देश छोड़कर चले गए है और संयुक्त राष्ठ्र के अनुसार अब तक 473 लोग मारे गए हैं.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून समेत अंतरराष्ट्रीय जगत ने बाग्बो से तुरंत सत्ता छोड़ने की अपील की है.

अमरीका ने दोनों पक्षों से संयम बरतने और नागरिकों की सुरक्षा की अपील की है.

संबंधित समाचार