हवाई दुर्घटना के दो साल बाद मिले शव

जहाज़ का मलबा इमेज कॉपीरइट BEA
Image caption ये उस विमान का 'लैंडिग गियर' है जिसे अंटलांटिक महासागर के तल से निकाला गया है

वर्ष 2009 में समुद्र में दुर्घटनाग्रस्त हुए एअर फ़्रांस के एक विमान के यात्रियों की लाशें समुद्रतल में खोज ली गई हैं. अब इन लाशों को अगले तीन हफ़्तों के भीतर बाहर निकालने के लिए एक अभियान शुरू किया जाएगा.

रविवार को समुद्रतल में पहुंचे विशेष रोबोट ने लाशों के अलावा जहाज़ के मलबे के बड़े हिस्से का पता लगा लिया है.

हवाई जहाज़ के ब्लैक बॉक्स का अब भी पता नहीं है लेकिन इस खोज अभियान से जुड़े लोगों को उम्मीद है कि वो ब्लैक बॉक्स को ढूंढ पाएंगे.

एअर फ़्रांस का ये जहाज़ एक जून 2009 को एटलांटिक महासागर के ऊपर से उड़ान भरते समय दुर्घटनाग्रस्त हो गया है. इसपर सवार सभी 228 लोग मारे गए थे. दुर्घटना के कारणों का अबतक पता नहीं लग पाया है.

बड़ी कामयाबी

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption समुद्र की सतह पर तैरते जहाज़ के मलबे को दुर्घटना से सात दिन बाद निकाला जा सकता था.

हालांकि हवाई दुर्घटना के बाद मलबा बरामद कर लिया गया था लेकिन जहाज़ के अधिकतर हिस्से समुद्र में डूब गए थे. इससे पहले समुद्र की तह में मलबे का पता लगाने की तीन कोशिशें असफल रही हैं.

लेकिन 4000 मीटर तक गहरे पानी में जाने की क्षमता रखने वाले रोबोट की सहायता से चौथी कोशिश में जहाज़ का अधिकतर हिस्सा खोज निकाला गया है.

फ़्रास के यातायात मंत्री ने कहा है कि जहाज़ के हिस्सों को बाहर निकालने का सिलसिला तीन सप्ताह के भीतर शुरू कर लिया जाएगा. अधिकारियों ने कहा है कि वे मारे गए लोगों के रिश्तेदारों को इस पूरे अभियान की प्रगति के बारे में अवगत करवाते रहेंगे.

अधिकारियों के अनुसार कुछ लोग तो अपने प्रियजनों की लाशों को बाहर निकालने के इच्छुक होंगे लेकिन कुछ के लिए ये दुखद भी हो सकता है.

यातायात मंत्री ने कहा है कि दो साल तक चले खोज अभियानों के बाद जहाज़ के मलबे का पता लगना एक बड़ी उपलब्धि है. उन्हें उम्मीद है कि ब्लैक बॉक्स भी बरामद कर लिया जाएगा.

अगर ऐसा होता है तो दुर्घटना के कारणों का भी पता चल सकता है. इस दुर्घटना में मारे गए अधिकतर लोग फ़्रांस, ब्राज़ील और जर्मनी के निवासी थे.

एक जून 2009 को एअर फ़्रांस का ये जहाज़ ब्राज़ील के रिओ डे जनेरियो से उड़ान भरने कुछ घंटों बाद ही समुद्र में गिर गया था.

संबंधित समाचार