इतिहास के पन्नों से

Image caption रवांडा बुरुंडी की कबीलाई हिंसा पर हॉलीवुड में फ़िल्म भी बन चुकी है.

छह अप्रैल का दिन इतिहास में कई वजहों से दर्ज़ है.

छह अप्रैल 1994 रवांडा-बुरुंडी के राष्ट्रपतियों की मौत

अफ़्रीका में कबीलों की हिंसा से जूझ रहे दो छोटे छोटे देश रवांडा और बुरुंडी के राष्ट्रपतियों की इसी दिन एक विमान दुर्घटना में मौत हो गई थी.

रवांडा के राष्ट्रपति जुवेनल हबयारिमाना और बुरुंडी के राष्ट्रपति सिप्रियान नतायमिरा तंजानिया में एक बैठक के बाद विमान से लौट रहे थे. विमान में दस और लोग थे और कुछ रिपोर्टों के अनुसार यह विमान राकेट गोलों की मदद से मार गिराया गया था.

रवांडा और बुरुंडी में हुतू और तुत्सी कबीलों के लोगों के बीच खूनी रंजिश का इतिहास बरसों पुराना है और ये दोनों राष्ट्रपति इसी संघर्ष को खत्म करने के लिए बातचीत कर रहे थे. दोनों ही राष्ट्रपति हूतु कबीले के थे जिसके कारण इनकी मौत के बाद दोनों कबीलों के बीच संघर्ष और तेज़ हो गया था.

छह अप्रैल 1997 अंतरिक्ष यान कोलंबिया की वापसी की घोषणा

अमरीकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने अपने कोलंबिया अंतरिक्ष यान को ज़मीन पर वापस जल्दी बुलाने की घोषणा आज के ही दिन की थी.

Image caption कोलंबिया को 1997 में तकनीकी खराबी के कारण वापस बुलाया गया और फिर 2003 में दोबारा भेजा गया

नासा के अनुसार यान के ईंधन इकाई में कुछ समस्याएं थीं जिसके कारण इसे जल्दी वापस बुलाने का फ़ैसला किया गया. कोलंबिया को मात्र चार दिन अंतरिक्ष में रखने के बाद वापस बुलाया गया था जबकि इसे दो हफ्ते के लिए अंतरिक्ष में रहना था.

कोलंबिया यान 17 जुलाई को बिना किसी दुर्घटना के वापस धरती पर लौट गया. इसके बाद नासा ने फिर से इस अभियान को शुरु किया और फरवरी 2003 में इसे जब अंतरिक्ष में भेजा गया तो वापसी में कोलंबिया दुर्घटनाग्रस्त हो गया. इस बार भी कोलंबिया में वही ख़राबी पाई गई तो 1997 में देखी गई थी.

छह अप्रैल 1975 आपरेशन बेबीलिफ्ट आपरेशन

आज के ही दिन विएतनाम से 99 अनाथ बच्चों को लेकर एक विमान लंदन के हीथ्रो एयरपोर्ट पर उतरा था.

इस बोईंग 747 का खर्चा ब्रिटेन के अख़बार डेली मेल ने उठाया था जिसके संपादक डेविड इंग्लिश अमरीका के आपरेशन बेबीलिफ्ट से ख़ासे प्रभावित हुए थे.

इन बच्चों में 30 को निमोनिया था जबकि छह बच्चों को तुरंत अस्पताल ले जाना पडा था.

हालांकि डेली मेल के इस अभियान की यह कहते हुए व्यापक आलोचना हुई थी कि ये पब्लिसिटी स्टंट है.

ब्रिटेन लाए गए इन बच्चों में से 51 को गोद ले लिया गया. तीन की अस्पताल में मौत हो गई और बाकी बच्चे अनाथालय में पले.

छह अप्रैल 1968 अमरीका में नस्ली हिंसा

अमरीका में दो दिन पहले मार्टिन लूथर किंग की मौत के बाद छह अप्रैल को ज़बर्दस्त दंगे शुरु हो गए थे.

दंगों की इन घटनाओं में कम से कम 19 लोगों की मौत हुई और सैकड़ों की संख्या में लोग घायल हुए.

आगजनी, खून खराबा और दंगा करने के आरोप में तीन हज़ार लोग गिरफ्तार किए गए जिसमें बड़ी संख्या वाशिंगटन डीसी में गिरफ्तार की गई थी.

वाशिंगटन के अलावा शिकागो, डेट्रायट, और पीट्सबर्ग में भी काफ़ी हिंसा हुई थी.