सामूहिक कब्रों में 60 शव मिले

  • 7 अप्रैल 2011
मैक्सिको इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption मैक्सिको में नशीली दवाओं की तस्करी से संबंधित हिंसा के ख़िलाफ़ हज़ारों लोगों ने प्रर्दशन किया

उत्तरी मैक्सिको में अधिकारियों को आठ सामूहिक क़ब्रें मिली हैं, जिनमें 60 शव दफ़न थे.

तमौलिपास सूबे मे ये सामूहिक क़ब्र उसी जगह पाई गई हैं जहां पिछले साल अगस्त में 72 लोग मृत पाए गए थे.

कहा गया था कि ये लोग दक्षिण अमरीका से आए प्रवासी थे और इन्हें इसे लिए मार दिया गया था क्योंकि इन्होंने तस्करों के लिए काम करने से मना कर दिया था.

मैक्सिको का ये इलाक़ा नशीली दवाओं की तस्करी का गढ़ है और यहां इस तरह की हिंसा की घटनाएँ बड़े पैमाने पर होती रही हैं.

अधिकारियों का कहना है कि हाल में पाई गईं आठ क़ब्रें बस यात्रियों के अपहरण के एक मामले की जांच के दौरान मिलीं.

अपहरण

उन्होंने कहा कि वो इस बात की जांच कर रहे हैं कि क्या ये शव उन यात्रियों के हैं जिनका तस्करों ने दो हफ़्ते पहले अपहरण कर लिया था.

पुलिस नें इस सिलसिले मे मारे गए छापों में 11 लोगों को गिरफ़्तार किया है जबकि पांच लोगों को अपहरणकर्ताओं की क़ैद से रिहा कराया गया है.

बुधवार को मैक्सिको में हज़ारों लोगों ने तस्करी से संबंधित हिंसा के ख़िलाफ़ प्रदर्शन किए.

प्रदर्शनकारी "अब और ख़ून नहीं बहेगा" के नारे लगा रहे थे.

मैक्सिकों के राष्ट्रपति फेलिपे कालडेरॉन ने तस्करी के ख़ात्मे के लिए एक बड़ी मुहिम छेड़ रखी है.

पिछले चार सालों के दौरान नशीली दवाओं से संबंधित हिंसा में 30,000 से ज़्यादा लोग मारे गए हैं.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार