प्रदर्शनों का नया केंद्र - सीरियाई होम्स शहर

  • 19 अप्रैल 2011
सीरिया में सरकार विरोधी प्रदर्शन इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption होम्स शहर सरकार विरोधी प्रदर्शनों का केंद्र बनता जा रहा है

सीरिया में सरकार विरोधी प्रदर्शनों के संदर्भ में होम्स नामक शहर हाल ही में चर्चा में आया है, हालाँकि ये शहर भी इन प्रदर्शनों के मामले में देरा शहर से किसी भी तरह पीछे नहीं रहा है.

होम्स शहर सीरिया के केंद्रीय इलाक़े में स्थित है जो राजधानी दमिश्क से लगभग 180 किलोमीटर उत्तर में स्थित है. होम्स इसी नाम के प्रांत का मुख्य शहर है और होम्स सीरिया का सबसे बड़ा प्रांत है. आबादी के लिहाज़ से ये तीसरा सबसे बड़ा प्रांत है जिसकी जनसंख्या दस लाख से कुछ ज़्यादा है.

देरा प्रांत की ही तरह, होम्स का गवर्नर भी राष्ट्रपति बशर अल असद के काफ़ी नज़दीक है और इसी वजह से दोनों स्थानों पर असद विरोधी प्रदर्शनों को ज़्यादा हवा मिली है.

होम्स में सीरिया की धार्मिक विविधता भी नज़र आती है क्योंकि वहाँ ईसाई भी काफ़ी संख्या में रहते हैं, सुन्नी मुसलमान बहुसंख्या में हैं और अलावाइट समुदाय के लोग भी रहते हैं.

होम्स का ग्रामीण इलाक़ा तूदमोर तक फैला हुआ है जो सीरियाई रेगिस्तान तक फैला हुआ है. इस इलाक़े में अनेक प्रभावित सीरियाई क़बीलों से संबंधित लोग रहते हैं.

1980 में होम्स में सुरक्षा बलों और तथाकथित 'मुस्लिम ब्रदरहुड' के चरमपंथियों के बीच झड़पें हुई थीं हालाँकि वो हिंसा ज़्यादा नहीं फैली थी. अलबत्ता पास के ही हमा इलाक़े में ख़ासी हिंसक लड़ाई हुई थी जिसमें हज़ारों लोग मारे गए थे.

होम्स प्रांत में भारी संख्या में सैन्य अड्डे और अन्य सैनिक ठिकाने स्थित हैं, जिनमें सीरियाई सैन्य अकादमी भी है. इनके अलावा तेल शोधन कारख़ाने, सीमेंट फैक्टरियाँ और बिजली घर भी हैं.

संपर्क केंद्र

सीरिया के उत्तरी और दक्षिणी हिस्सों को जोड़ने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग भी होम्स में से ही होकर जाता है, यही राजमार्ग दमिश्क के रास्ते में अन्य तटीय शहरों को भी जोड़ता है.

ताज़ा सरकार विरोधी प्रदर्शन ख़ासतौर से होम्स शहर में ही फैले हैं. इसके अलावा पास के रस्तान और तलबीसा शहर भी प्रदर्शनों की चपेट में आते नज़र आ रहे हैं.

शुरू में सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों ने कुछ माँगें सामने रखी थीं लेकिन सरकार के सख़्त रवैये के बाद प्रदर्शनकारियों का ग़ुस्सा भड़कता गया है.

दूसरे दौर के प्रदर्शनों के दौरान सरकार को हटाने की खुलकर मांग की जा रही है.

केंद्रीय सीरिया में होम्स की स्थिति को देखते हुए कहा जा रहा है कि अगर सरकार विरोधी प्रदर्शकारी होम्स में अपना नियंत्रण स्थापित करने में कामयाब हो जाते हैं तो उससे राष्ट्रीय स्तर पर प्रशासन ठप हो सकता है. सीरियाई बंदरगाहों पर आने वाला तमाम आयात सामान होम्स से होकर ही गुज़रता है.

संबंधित समाचार