तवांग में हैलिकॉप्टर दुर्घटना में 17 मरे

  • 19 अप्रैल 2011
हैलिकॉप्टर
Image caption इस इलाके में पहले भी हेलीकॉप्टर दुर्घटनाएं हो चुकी हैं.

पूर्वोत्तर राज्य अरुणाचल प्रदेश के तवांग में एक पवन हंस हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया है जिसमें 17 लोग मारे गए हैं.

इस हेलिकॉप्टर में 23 लोग सवार थे, जिसमें से 18 लोग यात्री थे और बाकी पांच लोग पवन हंस के कर्मचारी थे. ख़बरों के मुताबिक़ यात्रियों में दो बच्चे भी शामिल हैं.

अब तक छह लोगों को मलबे से सुरक्षित बाहर निकाला जा चुका है.

इस हेलिकॉप्टर ने मंगलवार की दोपहर गुवाहाटी से तवांग के लिए उड़ान भरी थी.

बताया जा रहा है कि तवांग में उतरते हुए इस हैलिकॉप्टर में आग लग गई, जिसके बाद वो 15 मीटर की ऊंचाई से खाई में जा गिरा.

अरुणाचल प्रदेश के गृह मंत्री का कहना है कि मृत लोगों को मलबे से निकालने का काम जारी है.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने तवांग में एक वरिष्ठ अधिकारी जी पड़ू के हवाले से पुष्टि की है कि 23 में से केवल 6 लोगों को बचाया जा सका.

जी पड़ू का कहना है कि बचाए गए छह लोगों का शरीर बुरी तरह से जल चुका है और मरने वालो की संख्या में बढ़ोतरी हो सकती है.

पवन हंस हैलिकॉप्टर लिमिटिड भारत की एक सार्वजनिक क्षेत्र की हैलिकॉप्टर सेवा है.

ये कंपनी भारतीय तेल और गैस कमिशन यानि ओएनजीसी को सेवाएं उप्लब्ध कराती है.

इसके अलावा ये कंपनी पूर्वोत्तर राज्यों और वैष्णो देवी जाने वाले यात्रियों के लिए भी हैलिकॉप्टर सेवाएं मुहैया करवाती है.

साथ ही पवन हंस हैलिकॉप्टर लिमिटिड की सेवाएं राहत कार्य के लिए भी इस्तेमाल की जाती हैं.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार