मोबाइल पर बढ़ी फ्लर्टिंग

  • 22 अप्रैल 2011
Image caption मोबाइल पर प्यार का इज़हार

मोबाइल फ़ोन पर फ्लर्टिंग और डेटिंग का चलन बढ़ा है और इन सेवाओं पर लोग अब ज़्यादा पैसे खर्च कर रहे हैं.

मोबाइल पर इश्कबाज़ी और मेलजोल बढ़ाने पर किए गए खर्च में 2010 में 36 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई. 2009 में लोगों ने अपने दिल की बात पहुंचाने के लिए इन सेवाओं पर 34.6 मिलियन पाउंड खर्च किए थे.

मोबाइल फ़ोन पर इन सेवाओं की दर का नियमन करनेवाली फ़ोन पे प्लस ने आधिकारिक आंकड़ों के आधार पर ये निष्कर्ष दिया है.

मोबाइल और ऑनलाइन फ्लर्टिंग सेवाओं पर वर्चुअल गिफ़्ट यानि आभासी उपहार की बिक्री में भी खासी बढ़ोतरी हुई है, जैसे कि किसी के मोबाइल पर वर्चुअल ‘किस’ भेजना.

पुरुष हैं आगे

रिपोर्ट के मुताबिक पुरुष फ़ोन पर फ़्लर्ट करना ज़्यादा पसंद करते हैं.

इन सेवाओं का इस्तेमाल करनेवाले लोगों में 63 प्रतिशत पुरुष होते हैं जिनकी उम्र 18 से 34 साल के बीच होती है और ये लोग प्रीमियम दर पर फ़्लर्टिंग सेवाओं का इस्तेमाल करते हैं.

फ़ोन पे प्लस के कार्यकारी अधिकारी पॉल ह्वाइटिंग का कहना है, ‘‘एक नियामक के रूप में हम बाज़ार में नवप्रवर्तन का स्वागत करते हैं और चाहते हैं कि उपभोक्ता नई सेवाओं का जमकर इस्तेमाल करे. उन्हें ये तसल्ली होनी चाहिए कि एक नियामक संस्था है जो उपभोक्ताओं के हितों की रक्षा कर रही है.''

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए